राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन उत्तर प्रदेश के द्वारा प्रांतीय बैठक आलमबाग लखनऊ में आयोजित हुई बैठक में श्री अमित गुप्ता राष्ट्रीय अध्यक्ष, एवं मनीष अग्रवाल अध्यक्ष उत्तर प्रदेश मौजूद रहे। संगठनात्मक विस्तार पर आर्थिक प्रस्ताव, सर्व सम्मत से पारित किए गए।
देश के खुदरा व्यापार व एमएसएमई सेक्टर सूक्ष्म लघु मध्यम उद्योग मैं आ रही समस्याओं को दृष्टिगत रखते हुए देश के आम बजट में निम्नलिखित मांगों को सम्मिलित कर राहत प्रदान की जाए 7 करोड़ खुदरा व्यापारी हैं जो लगभग 28 करोड़ कर्मचारियों को रोजगार व व्यापार देने का काम करते है आजादी के 73 वर्ष बीतने के बावजूद ना तो उसकी सुरक्षा की व्यवस्था हो पाई है ना ही प्रतिष्ठा ही सम्मान पा पाया है।
आवश्यक वस्तु अधिनियम 3/7 का हटाना पूंजीवादी व्यवस्था को पोषण करने का काम करेगी कृषि व्यवस्था कुछ पूंजीपतियों के हाथ में जाने से जहां देश की मंडी समिति समाप्त होगी वही देश का किसान अपनी उपज का मूल्य का निर्धारण आने वाले समय में कुछ पूंजीपति करेंगे यह कभी भी राष्ट्र के हित में नहीं होगा इसलिए इस बिल पर सरकार को सहानुभूति पूर्वक विचार कर वापस लेने का कार्य करना चाहिए।
पेट्रो पदार्थ जीएसटी के दायरे से बाहर होने के कारण डीजल पेट्रोल के मूल्य में अप्रत्याशित वृद्धि होती जा रही है देश का आम नागरिक अपने जीवन का जीविकोपार्जन वर्तमान स्थितियों में बड़ी मुश्किल से कर पा रहा है डीजल पेट्रोल के दाम बढ़ने से सभी क्षेत्रों में महंगाई का असर पड़ता है एक देश एक कर की भावनाओं को समावेश करते हुए पेट्रो पदार्थ को जीएसटी के दायरे में लाया जाए ताकि डीजल पेट्रोल गैस के दामों पर अंकुश लग सके।
भारत सरकार के द्वारा कोविड-19 के समय दिए गए 20 लाख करोड़ के पैकेज को अभी तक धरातल में नहीं दिख रहा है सुप्रीम कोर्ट के द्वारा मोरटोरियम पीरियड पर लोन की ब्याज तक माफ करने के लिए कई बार अंकित किया गया लेकिन राहत प्रदान नहीं की गई है वित्त मंत्री जी एक बार पुनः कर मोरटोरियम पीरियड की ब्याज मुक्त करने का काम कर आम जनमानस को राहत देने का काम करें। प्राइवेट स्कूलों मैं पढ़ने वाले बच्चों की स्कूल की फीस का आधा भाग सरकार वहन कर आम जनता को राहत प्रदान करने का प्रयास करें।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.