नई दिल्ली: पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आज वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (WDFC) के 306 किमी लंबे रेवाड़ी-मदार खंड का लोकार्पण कर दिया है. इलेक्ट्रिक ट्रैक्शन द्वारा चलने वाली 1.5 किमी लंबी दुनिया की पहली डबल स्टैक लॉन्ग हॉल कंटेनर ट्रेन का भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.
इस अवसर पर पीएम मोदी ने कहा, न्यू अटेली से न्यू किशनगढ़ तक 1.5 किमी लंबी मालगाड़ियों की शुरुआत के साथ आज भारत दुनिया के गिने चुने देशों में अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहा है. आज का दिन NCR, हरियाणा और राजस्थान के किसानों, उद्यमियों, व्यापारियों के लिए नए अवसर लाया है. डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर चाहे ईस्टर्न हो या वेस्टर्न ये सिर्फ मालगाड़ियों के लिए आधुनिक रुट नहीं हैं. ये देश के तेज विकास के कॉरिडोर हैं.
“बीते सालों में रेलवे को गति मिली”
पीएम मोदी ने कहा, पहले रेलवे में बुकिंग से लेकर यात्रा खत्म होने तक शिकायतों का ही अंबार रहता था. साफ-सफाई, समय पर ट्रेन चले, सुविधा, सुरक्षा हर स्तर पर रेलवे में बदलाव करने की मांग होती रही. बदलाव के इन कामों को बीते सालों में गति दी गई है. आज भारत में इंफ्रास्ट्रक्चर का काम 2 पटरियों पर एकसाथ चल रहा है. एक पटरी निजी व्यक्ति के विकास को आगे बढ़ा रही है और दूसरी पटरी पर देश के ग्रोथ इंजन को नई ऊर्जा मिल रही है.
किसानों पर पीएम मोदी ने कहा, देश के इंफ्रास्ट्रक्चर को आधुनिक बनाने के लिए चल रहे महायज्ञ ने आज एक नई गति हासिल की है. बीते दिनों आधुनिक डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर के माध्यम से किसानों के खातों में सीधे 18,000 करोड़ रुपये से ज्यादा ट्रांसफर किए गए हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.