पूरी दुनिया समेत भारत भी कोरोना संक्रमण से जंग लड़ रहा है. वहीं इस बीच खबर आ रही है कि देश के दो राज्यों में एक और फ्लू ने दस्तक दे दी है. दरअसल राजस्थान और मध्य प्रदेश में बर्ड फ्लू ने खौफ पैदा कर दिया है. इन दो राज्यों में बड़ी संख्या में कौवों की मौत हुई है जिसके पीछे वजह ‘ बर्ड फ्लू’ वायरस बताया जा रहा है.
केंद्र सरकार ने सभी राज्यों में जारी किया अलर्ट
वहीं मामले की गंभीरता को देखते हुए केंद्र सरकार ने भी सभी राज्यों को इस खतरे के लिए अलर्ट जारी कर दिया है. इसके साथ ही जहां-जहां कौवों की मौत हुई है वहां पर लोगों की भी निगरानी की जा रही है ताकि इस संक्रमण को इंसानों में फैलने से रोका जा सके. गौरतलब है कि बर्ड फ्लू पहले भी भारत में खौफ पैदा कर चुका है.
उठाए जा रहे ठोस कदम
रविवार को राजस्थान के प्रमुख सचिव कुंजी लाल मीणा ने बताया कि अब तक कोटा में 47. झालावाड़  100 और बारां में 72 कौवों की मौत के मामले सामने आए हैं. बूंदी में भी कौवों की मौत की खबर मिली है. हालांकि जांच में ये खबर गलत पाई गई. उन्होंने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए काफी एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं. इतना ही नहीं लोगों को इस संबंध में जागरूक भी किया जा रहा है.
 इंदौर में मृत मिले कौवों में एच5एन8 वायरस की पुष्टि
इधर, मध्य प्रदेश में मृत पक्षियों के सैपल भोपाल की एक प्रयोगशाला में भेजे गये हैं. इंदौर में मृत मिले कौवों में एच5एन8 वायरस की पुष्टि हो चुकी है. गौरतलब है कि एच5एन1 से एच5एन5 वाले वायरस ज्यादा हानिकारक और घात हैं. यह तेजी से फैलता है
वहीं हिमाचल के पौंग बांध में भी एक हजार से ज्यादा प्रवासी पक्षियों के मरने की खबर आई है. यह हिमाचल समेत पहाड़ी राज्यों के लिए खतरे की बात है. गौरतलब है कि जांचम  भी यह बात सामने आई है कि प्रवासी पक्षियों की मौत की वजह बर्ड फ्लू है.
बर्ड फ्लू के लक्षण
जुकाम, सर्दी, बुखार, नाक बहना, आंखों से पानी ना, शरीर दर्द और निमोनिया की शिकायत
बर्ड फ्लू इंसानों से ज्यादा जानवर और पक्षियों को हानि पहुंचाता है. इसकी प्रसार की रफ्तार कम होती है.
कोरोना के मुकाबले यह वायरस इंसानों को ज्यादा प्रभावित नहीं करता है
बर्ड फ्लू का असर पांच दिन तक रहता है.
 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.