नई दिल्ली: दुनिया के नेताओं की उनके कार्यकाल में स्वीकृति पर नजर रखने वाली डाटा फर्म के सर्वे के मुताबिक पीएम मोदी 55 फीसदी स्वीकृति रेटिंग के साथ सबसे ऊपर हैं. मॉर्निंग कंसल्ट नामक फर्म के नए सर्वे के अनुसार, 75 फीसदी लोगों ने नरेंद्र मोदी का समर्थन किया जबकि 20 फीसदी ने उन्हें स्वीकार नहीं किया. जिससे उनकी कुल स्वीकृति रेटिंग 55 रही है जो सबसे ज्यादा है.
इसी तरह जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल की स्वीकृति रेटिंग 24 फीसदी रही, जबकि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की स्वीकृत रेटिंग नकारात्मक रही है. इसका मतलब है कि उनका समर्थन करने वालों के मुकाबले विरोध करने वालों की संख्या अधिक है. भारत में सर्वे के दौरान नमूने का आकार 2,126 रहा और इसमें त्रृटि की संभावना 2.2 फीसदी है.
2020 में बीजेपी का बढ़ा नया जनाधार
जब कोरोना ने समाज और देश की अर्थव्यवस्था को हिलाकर रख दिया, वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘आपदा’ को ‘अवसर’ में बदलने का आह्वान बीजेपी के लिए फायदे का सौदा साबित हुआ. इस आपदा काल में बीजेपी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की ओर से चलाए गए अभियान की बदौलत भगवा दल ने 2020 में नए क्षेत्रों में अपनी पैठ बनाई.
कांग्रेस का जनाधार गुजर रहे साल में भी घटता ही गया और प्रधानमंत्री मोदी की अपील की बदौलत बीजेपी शानदार ढंग से आगे निकलती गई. हालांकि जाते-जाते यह साल किसानों के आंदोलन के रूप में बीजेपी के समक्ष एक बड़ी चुनौती पेश कर गया. प्रधानमंत्री मोदी द्वारा अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की आधारशिला रखा जाना और ‘लव जिहाद’ के खिलाफ कानून बनाने की बीजेपी की मांग ने उसके हिंदू वोटबैंक को और मजबूत करने में मदद की.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.