नई दिल्ली: भारत के सभी राज्यों में सिलेक्टेड साइट्स पर कल कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन किया जाएगा. ऐसे में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने आज दिल्ली में होने वाले ड्राई रन की तैयारियों का जायजा लेने के लिए वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए अधिकारियों के साथ बैठक की. बैठक के बाद स्वास्थ्य मंत्री ने बताया, वैक्सीन को लेकर देश में बहुत गंभीरता से प्रयास हो रहा है और कम से कम दो वैक्सीन ने अप्रूवल के लिए ड्रग कंट्रोलर के यहां आवेदन किया है.
डॉ हर्षवर्धन ने कहा, ‘पहले चरण में वैक्सीन के ड्राई रन के लिए हम पूरी तरह से तैयार हैं. जैसे चुनाव के वक्त बूथ लेवल तक तैयारी की जाती है, वैसी ही तैयारी वैक्सीनेशन के लिए की है. पहले चरण में जिन लोगों को ये वैक्सीन दी जानी है, उनकी लिस्ट भी तैयार कर ली गई है. सबसे पहले वैक्सीन हेल्थ वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को दी जाएगी.’
सभी राज्यों में होगा कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन
2 जनवरी को सभी राज्य और केन्द्र शासित प्रदेश सरकारों द्वारा ड्राई रन का किया जाएगा. ये ड्राई रन कम से कम 3 सेशन साइटों में सभी राज्य की राजधानियों में आयोजित करने का प्रस्ताव है. वहीं कुछ राज्यों में ऐसे जिले भी शामिल होंगे जो दूर दराज इलाके में हैं.
ड्राई रन उसी तरह होगा जिस तरह वैक्सीन आने पर टीका कारण में बारे में प्लान किया गया है या जैसे वैक्सीन लगाई जाएगी. इस ड्राई रन में वैक्सीन नहीं दी जाएगी, सिर्फ लोगों का डेटा लिया जाएगा, उसे Co Win ऐप पर अपलोड किया जाएगा. माइक्रो प्लानिंग, सेशन साइट मैनेटमेंट और ऑनलाइन डेटा सिक्योर करने जैसी कई चीजों का परीक्षण होगा. इसके अलावा टीकाकरण के बाद किसी भी संभावित प्रतिकूल घटनाओं AEFI यानी एडवरस इफेक्ट फॉलोविंग इम्यूनाइजेशन के प्रबंधन पर ड्राई रन का एक महत्वपूर्ण ध्यान केंद्रित किया जाएगा.
चार राज्यों में सफल रहा ड्राई रन
इससे पहले देश के चार राज्य- असम, आंध्र प्रदेश, पंजाब और गुजरात में कोरोना वैक्सीनेशन का ड्राई रन सफलतापूर्वक किया जा चुका है. 28 और 29 दिसंबर को इन चारों राज्यों में कोविड-19 वैक्सीनेशन का ड्राई रन किया गया.
बता दें, देश में कोरोना वायरस का आतंक जारी है. अब कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन ने भी भारत में दस्तक दे दी है. अब तक 25 से ज्यादा लोग इस नए वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. जिन लोगों के सैंपल नए स्ट्रेन से पॉजिटिव पाए गए हैं, उन्हें राज्य सरकारों के जरिए निर्देश दिए गए अलग कमरे में आइसोलेट किया गया है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.