लखनऊ: राज्य के अपर मुख्य सचिव खादी एवं ग्रामोद्योग डॉ. नवनीत सहगल ने बताया कि खादी के जरिए लोगों को स्वरोजगार से जोड़ने की मुहिम को लगातार चलाया जा रहा है. खादी को फैशनेबल रुप और रंग देने के लिए देश के मशहूर फैशन डिजाइनर्स को खादी के साथ जोड़ा गया है. उन्होंने बताया कि 24 जनवरी को यूपी दिवस के मौके पर अवध शिल्प ग्राम में खादी फैशन शो का आयोजन किया जाएगा. इस फैशन शो में देश के कई नामचीन फैशन डिजाइनर्स रितु बेरी, रीना ढाका, मनीष मल्होत्रा, आस्मा हुसैन, रुना बनर्जी के डिजाइनर खादी वस्त्रों को पहनकर मॉडल्स रैंप वॉक करते नजर आएंगे.
24 जनवरी से 2 फरवरी तक होगा आयोजन
डॉ. नवनीत सहगल ने जानकारी दी कि उत्तर प्रदेश दिवस पर अवध शिल्प ग्राम में 24 जनवरी से 2 फरवरी तक खादी एवं ग्रामोद्योग इकाइयों की भव्य प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा. कार्यक्रम में सोलर चरखों का वितरण किया जाएगा. इसके अलावा दोना-पत्तल मशीन भी वितरित की जाएगी. प्रदेश में कुम्हारी कला को बढ़ावा देने के लिए कुम्हारी चाक एवं लाभार्थियों को ऋण स्वीकृति पत्र दिए जाएंगे. इसके साथ ही प्रदेश की विशिष्ट इकाइयों को पुरस्कृत भी किया जाएगा. इसके अलावा अवध शिल्प ग्राम में एक जिला-एक उत्पाद (ODOP) के 75 स्टॉल्स भी लगाए जाएंगे. इसमें सभी जिलों की खास पहचान रखने वाले उत्पाद प्रदर्शन एवं बिक्री के लिए उपलब्ध होंगे.
युवाओं को खादी से जोड़ना प्रदर्शनी का मकसद
डॉ. सहगल ने बताया कि पिछले वर्ष खादी फैशन शो का आयोजन किया गया था जिसे काफी सराहना मिली थी. इस प्रकार के आयोजन का मुख्य उद्देश्य खादी से युवा वर्ग को जोड़ना है. सरकार के इन प्रयासों से आज खादी युवाओं के बीच लोकप्रिय हो रही है. साथ ही लोग शादी-विवाह में भी खादी वस्त्रों को पहनना पसंद कर रहे हैं. प्रदेश में खादी की जितनी ज्यादा मांग बढ़ेगी, उतने अधिक रोजगार का सृजन होगा और स्वदेशाी को बढ़ावा भी मिलेगा. इसके साथ ही प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संकल्प को पूरा करने में इससे मदद मिलेगी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.