वाशिंगटन: अमेरिका ने मॉडर्ना के कोविड -19 वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की शुक्रवार को मंजूरी दे दी. दुनिया में सबसे ज्यादा कोरोना वायरस संक्रमण का सामना कर रहे अमेरिका में जल्द ही इसकी छह मिलियन डोज की शिपिंग शुरू की जाएगी. अमेरिका के खाद्य और औषधि प्रशासन (एफडीए) के प्रमुख स्टीफन हैन ने कहा कि “कोविड -19 की रोकथाम के लिए अब दो वैक्सीन की उपलब्धता के साथ एफडीए ने महामारी के खिलाफ लड़ाई में एक और महत्वपूर्ण कदम उठाया है.” राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने वैक्सीन की मंजूरी के बाद ट्वीट किया “बधाई हो, मॉडर्ना वैक्सीन अब उपलब्ध है.”
मॉडर्ना वैक्सीन को मंजूरी देने वाला अमेरिका पहला देश
मॉडर्ना वैक्सीन को मंजूरी देने वाला अमेरिका पहला देश बन गया है. फाइजर और बायोएनटेक की वैक्सीन के बाद अमेरिका में आपातकालीन इस्तेमाल के लिए यह दूसरी वैक्सीन होगी. इसे -20 डिग्री सेल्सियस तापमान पर सुरक्षित रखा जा सकता है. फाइजर-बायोएनटेक वैक्सीन के 2 दिसंबर को ब्रिटेन में इस्तेमाल की अनुमति मिलने के बाद पिछले सप्ताह अमेरिका सहित कई अन्य देशों ने भी इस्तेमाल की मंजूरी दी थी. वहीं, चीन और रूस ने भी वैक्सीनेशन शुरू किया है.
वैक्सीन के अप्रूवल के लिए एफडीए विशेषज्ञों के पैनल में शामिल रहे मेहर्री मेडिकल कॉलेज के प्रसिडेंट जेम्स हिल्ड्रेथ ने गुरुवार को कहा कि एक वर्ष के भीतर फाइजर और मॉडर्ना वैक्सीन को विकसित और अप्रूवल मिलना एक “उल्लेखनीय उपलब्धि” थी. ये महामारी की लंबी टनल के अंत में लाइट की एक किरण नजर आती है.
अमेरिका में कोरोना से 3,10,000 से अधिक लोगों की मौत
कोविड ट्रैकिंग प्रोजेक्ट के अनुसार अकेले अमेरिका में 3,10,000 से अधिक लोगों की कोरोना वायरस संक्रमण से मौत हो चुकी है और लगभग 1,15,000 लोग अस्पताल में भर्ती हैं. वैक्सीन को मंजूरी मिलने के बाद अब लॉजिविस और लुइसविले के कोल्ड स्टोरेज साइट्स से लॉजिस्टिक्स फर्म मैककेसन की देखरेख में वैक्सीन के लाखों डोज की शिपिंग शुरू होगी. मॉडर्ना ने इस महीने में 20 मिलियन डोज की शिपिंग का प्रपोजल रखा है. 2021 की पहली तिमाही में 80 मिलियन और दूसरी तिमाही में 100 मिलियन डोज उपलब्ध कराने की बात कही है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.