जानवरों और इंसानों की दोस्ती की मिसालें तो हमेशा से दी जाती है. कुत्ते को इंसान का सबसे वफादार साथी माना जाता है. इसके पीछे एक सिंपल से लॉजिक ये है कि कुत्ते इंसानों की बात आसानी से समझते हैं और जल्द ही घुल मिल जाते हैं. पर एक रिसर्च में हाल ही ये खुलासा हुआ है कि कुत्तों की तरह कंगारू भी इंसानी व्यवहार को बहुत अच्छे से समझते हैं और मदद मांगते हैं.
सिडनी यूनिवर्सिटी और रोहेम्पटन यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स ने रिसर्च में 11 कंगारूओं को शामिल किया था. जो ऑस्ट्रेलिया के कई चिड़ियाघरों में रहते थे. इस रिसर्च में कहा गया है कि कंगारू मनुष्यों के साथ पालतू जानवरों जैसे कुत्तों, घोड़ों और बकरियों की तरह ही संवाद कर सकते हैं. ऑस्ट्रेलिया में तीन स्थानों पर इस रिसर्च को पूरा किया गया.
विशेषज्ञों ने ये खुलासा एक टेस्ट के बाद किया. दरअसल कंगारूओं को प्लास्टिक के कंटेनर में अटका हुआ खाना दिया गया. जिसे कंगारूओं खोलने के लिए इंसानों की तरफ देखा. कंटेनर को खोलने में असफल होने के बाद कंगारूओं ने एकटक इंसानों की तरफ देखा. ताकि वो आएं और उनकी मदद करें.
इस रिसर्च को हेड करने वाले आयरिश रिसर्चर एलन मैकएलीगॉट ने कहा कि जंगली प्रजातियों से इस तरह के व्यवहार करने की उम्मीद नहीं की जाती है, इसलिए यह आश्चर्य की बात है.” वहीं सिडनी यूनिवर्सिटी के रिसर्चर एलेक्जेंडर ग्रीन ने कहा, “हमें लगता था कि केवल पालतू जानवर ही किसी समस्या के लिए मदद मांगते हैं. लेकिन कंगारू भी ऐसा करते हैं.”

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.