सफलताnivesh निवेश प्रस्ताव के मामले में सबसे आगे हुआ कांग्रेस शासित प्रदेशटॉप फाइव निवेश गंतव्य14ए73ए466 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव आए दिसंबरए 2013 तक महाराष्ट्र में 13ए98ए347 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव हासिल कर गुजरात दूसरे स्थान पर निवेश के बाद गुजरात के बाद आंध्र प्रदेश तीसरेए उड़ीसा चौथे और कर्नाटक पांचवें स्थान पर है ।महाराष्ट्र ने टीयर.2 व टीयर.3 शहरों में औद्योगिक केंद्रों के विकास पर ध्यान केंद्रित किया है। सर्विस सेक्टर इंडस्ट्री के लिए इन्हें निवेश के लिए पसंदीदा विकल्प के तौर पर तैयार करने पर जोर दिया गया है ।देश के टॉप फाइव इनवेस्टमेंट डेस्टिनेशन की सामूहिक हिस्सेदारी 53ण्6 फीसदी से घटकर 48ण्2 फीसदी रह गई ।देश में गुजरात के विकास को लेकर तमाम चर्चाएं होती रही हैं लेकिन एक अध्ययन में बताया गया है कि भारत में गुजरात नहीं अब महाराष्ट्र निवेशकों की पहली पसंद बन गया है। उद्योग संगठन एसोचैम की एक रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात को पीछे छोडक़र महाराष्ट्र देश में नंबर वन इनवेस्टमेंट डेस्टिनेशन के तौर पर उभर कर सामने आया है। एसोचैम की रिपोर्ट में कहा गया है कि दिसंबर 2013 तक महाराष्ट्र में कुल 14ए73ए466 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव आए हैंए जबकि गुजरात को 13ए98ए347 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव हासिल हुए हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि महाराष्ट्र का गुजरात से आगे निकलने के पीछे का कारण राज्य का टीयर.2 व टीयर.3 शहरों में इंडस्ट्रियल सेंटर के डेवलपमेंट पर फोकस करना और भारतीय व विदेशी सर्विस सेक्टर इंडस्ट्री के लिए इन्हें निवेश के लिए पसंदीदा विकल्प के तौर पर तैयार करना है। रिपोर्ट में कहा गया है कि टॉप फाइव डेस्टिनेशन में से तीन डेस्टिनेशन में निवेश प्रस्ताव की कीमत में गिरावट आई है। यह तीन स्थान हैं गुजरातए आंध्र प्रदेश और उड़ीसा। एसोचैम के अध्यक्ष राना कपूर ने कहा कि पिछले दो सालों के दौरान दिसंबर 2013 तक देश के टॉप फाइव इनवेस्टमेंट डेस्टिनेशन की सामूहिक हिस्सेदारी 53ण्6 फीसदी से घटकर 48ण्2 फीसदी रह गई है। सर्विस और इलेक्ट्रिसिटी इंडस्ट्रीज के लिए महाराष्ट्र हब बन चुका हैए यहां इन दो सेक्टर ने 2013 के दौरान कुल 67ए000 करोड़ रुपये का निवेश किया है। इसकी तुलना में गुजरात में केवल 62ए000 करोड़ रुपये का निवेश हुआ है। दिसंबर 2011 तक गुजरात को 16ए28ए126 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव हासिल हुए थेए वहीं महाराष्ट्र को इस दौरान 14ए13ए728 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव मिले थे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.