पंजाब में किसान आंदोलन के समर्थन में अवार्ड वापसी के बाद इस्तीफे का सिलसिला जारी हो गया है। पंजाब के डीआईजी जेल लखविंदर सिंह जाखड़ ने अपना इस्तीफा पंजाब सरकार को भेजा है। किसानों के समर्थन में इस्तीफे के पेशकर कर लखविंदर सिंह जाखड़ सुर्खियों में आ गए हैं। इस्तीफे की वजह उन्होंने कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों को समर्थन को बताया है। एडीजीपी (जेल) पीके सिन्हा ने बताया कि उनके इस्तीफे की एक कॉपी मुझे भी मेल की है।

पूर्व मुख्यमंत्री समेत दिग्गजों ने अवार्ड वापसी

पंजाब में किसानों के आंदोलन को भरपूर समर्थन मिल रहा है। राजनीति से लेकर खेल जगत तक किसानों के पक्ष में अपनी आवाज बुलंद कर रहा है। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने पद्म विभूषण और राज्यसभा सांसद सुखदेव सिंह ढींढसा ने पद्मभूषण पुरस्कार लौटाने की घोषणा कर चुके हैं। वहीं, पंजाबी में साहित्य अकादमी पुरस्कार के विजेता पंजाब के प्रसिद्ध शायर डॉ. मोहनजीत, प्रख्यात विचारक डॉ. जसविंदर सिंह और पंजाबी नाटककार व एक अखबार के संपादक ने किसानों के समर्थन में अपने पुरस्कार लौटाने का एलान पहले ही कर चुके हैं।

पंजाब के 27 खिलाड़ियों ने की थी पुरस्कार लौटाने की घोषणा

पूर्व हॉकी कप्तान परगट सिंह समेत पंजाब के 27 खिलाड़ियों ने किसानों के समर्थन में अपने पहले ही पुरस्कार लौटाने की घोषणा कर चुके हैं। इस लिस्ट में करतार सिंह पहलवान, ब्रिगेडियर हरचरण सिंह, दविंदर सिंग गरचा, सुरिंदर सोढ़ी, गुनदीप कुमार, सुशील कोहली, मुखबैन सिंह, कर्नल बलबीर सिंह, गुरमैल सिंह, गोल्डन गर्ल रादबीर कौर, जगदीश सिंह, बलदेव सिंह, अजीत सिंह, हरमीक सिंह, अजीत पाल सिंह, चंचल रंधावा, सज्जन सिंह चीमा, हरदीप सिंह, अजैब सिंह, शाम लाल, हरविंदर सिंह, हरमिंदर सिंह, सुमन शर्मा, प्रेमचंद डोगरा, बलविंदर सिंह व सरोज बाला जैसे खिलाड़ियों का नाम शामिल है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.