लखनऊ: राजधानी में एक नया गिरोह सक्रिय हुआ है जो लोगों को अपने जाल में फंसा कर ब्लैकमेल कर रहा है. इस गिरोह पुरुषों के साथ बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हैं. पुलिस ने एक महिला और पुरुष को गिरफ्तार किया है, जो हनी ट्रैप के जरिए लोगों को ठगी का शिकार बना रही हैं. जिसमें महिलाओं के साथ पुरुष भी शामिल हैं. जो लोगों को अपना शिकार बना कर उनके पास रखी नगदी व एटीएम छीन लेता है और एटीएम का पिन ना बताने पर उसकी जमकर पिटाई भी कर देते हैं.
30 नवंबर को राजधानी लखनऊ के विभूतिखंड थाना क्षेत्र में इसी तरह की घटना सामने आई थी. मेडिकल कॉलेज (केजीएमयू) के दंत विभाग में तैनात डॉ. अखिलेश कुमार चौबे को लोहिया हॉस्पिटल के पास से अपहरण करने का मामला सामने आया था. जिसमें उनको बंधक बनाकर उनके साथ मारपीट करने साथ ही उनके पास रखे एटीएम कार्ड छीन लिए गए थे. एटीएम का पिन ना बताने पर उनकी जमकर पिटाई भी हुई थी. इस पर पुलिस मुकदमा दर्ज कर आरोपी की तलाश कर रही थी. जिसमें हनी ट्रैप का मामला सामने आया. पुलिस इस पूरे मामले की जांच में कई महिलाओं के शामिल होने का खुलासा हुआ है.
विभूति खंड पुलिस ने इस गिरोह के कुछ लोगों को गिरफ्तार किया है और इसमें एक बड़ा खुलासा भी करने का दावा कर रही है. वहीं इस खुलासे से डॉक्टर के साथ हुई घटना का भी खुलासा हो सकता है. पुलिस ने सेक्स एक्सटॉर्शन गैंग के एक महिला व पुरुष को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है.
पुलिस सूत्रों की मानें तो इस गैंग में 2 महिला समेत पांच पुरुषों को गिरफ्तार किया गया है. इस गिरोह ने बीते दिनों डॉक्टर को अपना निशाना बनाया था. वहीं यह गिरोह महाराष्ट्र, जयपुर, पुणे, इंदौर समेत कई बड़े राज्यों में फैले होने की बात बताई जा रही है. जिसमें अब तक इस गिरोह ने कई राज्यों में लोगों को अपना शिकार बना चुके हैं. इस पूरी गैंग में 7 लोग शामिल होना बताया गया है. पुलिस अभी जो आरोपी फरार हैं उनकी तलाश में दबिश दे रही है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.