नयी दिल्ली। पेट्रोल कीमतों में रविवार को 28 पैसे प्रति लीटर की और बढ़ोतरी हुई है। वहीं डीजल के दाम 29 पैसे प्रति लीटर बढ़ाए गए हैं। इस तरह वाहन ईंधन कीमतों में लगातार पांचवें दिन वृद्धि हुई है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल के दाम बढ़ने से घरेलू बाजार में भी वाहन ईंधन महंगा हुआ है।
पेट्रोलियम विपणन कंपनियों की मूल्य अधिसूचना के अनुसार, इस बढ़ोतरी के बाद राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 83.13 रुपये से बढ़कर 83.41 रुपये प्रति लीटर हो गया है। इसी तरह डीजल के दाम 73.32 रुपये से बढ़कर 73.61 रुपये प्रति लीटर हो गए हैं। मुंबई में पेट्रोल 90 रुपये प्रति लीटर और डीजल 80 रुपये प्रति लीटर से अधिक हो गया है।
पेट्रोलियम कंपनियों ने 20 नवंबर से ईंधन कीमतों में फिर संशोधन शुरू किया है। इसके बाद से यह वाहन ईंधन कीमतों में लगातार पांचवीं वृद्धि है। 20 नवंबर से वाहन ईंधन के दाम 14 बार बढ़ाए जा चुके हैं। इससे पहले करीब दो माह तक पेट्रोलियम कंपनियों ने कीमतों में संशोधन नहीं किया था। सितंबर, 2018 के बाद अब वाहन ईंधन के दाम सबसे ऊंचे स्तर पर हैं। इस तरह से 17 दिन में पेट्रोल के दाम 2.35 रुपये प्रति लीटर बढ़े हैं। इस दौरान डीजल 3.15 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ है।
ब्रेंट कच्चे तेल के दाम बढ़े
कोविड-19 के टीके को लेकर अच्छी खबरों के बीच ब्रेंट कच्चे तेल के दाम बढ़ रहे हैं। 30 अक्टूबर को यह 36.9 डॉलर प्रति बैरल पर थे, जो चार दिसंबर तक करीब 34 प्रतिशत बढ़कर 49.5 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच चुके हैं। सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम विपणन कंपनियां इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी), भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लि. (बीपीसीएल) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लि. (एचपीसीएल) अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क कीमतों तथा विदेशी विनिमय दर के आधार पर प्रतिदिन पेट्रोल और डीजल की कीमतों में संशोधन करती हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.