मुरादबाद: उत्तर प्रदेश में लव जिहाद की घटनाओं को रोकने के लिये राज्य की योगी सरकार ने कड़ा कानून कैबिनेट में पास करा लिया है. इसके तहत सख्त सजा का प्रावधान है. इस बीच योगी सरकार के इस कानून पर मुरादाबाद से समाजवादी पार्टी सांसद एसटी हसन ने प्रतिक्रिया देते हुये इसे राजनीतिक स्टंट बताया.
साथ ही उन्होंने कहा कि मुस्लिम लड़के हिंदू लड़कियों को अपनी ‘बहनों’ की तरह मानें. गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में अवैध तरीके से धर्मातंरण कानून ‘उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अध्यादेश-2020’ के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी.
इस तरह मिल जाता है लव जिहाद का नाम
सपा सांसद हसन ने कहा, ‘लव जिहाद एक राजनीतिक स्टंट है. हमारे देश में अलग-अलग धर्म के लोग रहते हैं और स्वछंद रूप से अपने जीवनसाथी का चयन करते हैं. उन्होंने कहा कि हिन्दू मुसलमान आपस में शादी करते हैं लेकिन यह संख्या कम है. हसन ने कहा कि ‘लव जिहाद’ के मामलों को देखें तो पता चलता है कि लड़कियों को पता होता है कि लड़के मुस्लिम थे. लेकिन सामाजिक दबाव के कारण या अगर परिवार में कुछ आंतरिक मुद्दों की वजह से वे कहती हैं कि वे नहीं जानती थी कि लड़का मुसलमान है और वे इसे ‘लव जिहाद’ का नाम दे देते हैं.
‘अपने आप को बचाएं मुस्लिम लड़के’
सपा सांसद ने कहा, ‘मैं मुस्लिम लड़कों को सलाह देता हूं कि वे हिंदू लड़कियों को अपनी बहन की तरह मानें. किसी के बहकावे में न आएं. एक कानून बनाया गया है, जिसके तहत आपको जबरदस्त यातनाएं दी जा सकती हैं. अपने आप को बचाएं और किसी भी प्रलोभन या प्यार में न पड़ें.’ आपको बता दें कि, पश्चिम उत्तर प्रदेश में लव जिहाद कई घटनाएं सामने आई थीं, जिन्हें लेकर सरकार ने चिता जताई थी.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.