पटना: बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे कल आएंगे लेकिन उससे पहले ही कांग्रेस के खेमे में हलचल बढ़ गई है। कांग्रेस के दो महासचिव रणदीप सुरजेवाला और अविनाश पांडे पर्यवेक्षक बनकर पटना पहुंचे हैं ताकि नतीजों के बाद के हालात पर फैसला लिया जा सके। दोनों ऑब्जर्वर केंद्रीय नेतृत्व से बात कर फैसला लेंगे। बता दें कि सोनिया गांधी ने दोनों को ऑब्जर्वर बनाया है। पटना पहुंचने के साथ ही राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि राष्ट्रीय नेतृत्व ने समन्वय की जिम्मेवारी दी है। उसे ही पूरा करने आया हूं। तेजस्वी यादव के नेतृत्व में राज्य में हमारी सरकार बनेगी।
इसके बाद सुरजेवाला ने सदाकत आश्रम पहुंचकर बैठक की। इसमें प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, राजस्थान के मंत्री राजेन्द्र यादव और रघु शर्मा के अलावा झारखंड के मंत्री बन्ना गुप्ता हरिद्वार के विधायक काजी निजामुद्दीन और सुबोधकांत सहाय भी शामिल हुए। ये सभी नेता कांग्रेस के संकट मोचक माने जाते हैं। सोमवार की सुबह स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष अविनाश पांडेय भी पटना पहुंचेंगे। बिहार के प्रभारी अजय कपूर भी पटना आएंगे। ये सभी नेता 10 तारीख को होने वाले चुनाव परिणामों पर नजर रखेंगे। इसके अलावा यदि पार्टी को इस दौरान किसी प्रकार के मार्गदर्शन की आवश्यकता होगी तो वह भी देंगे।
वहीं, आपको बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव की 10 नवंबर को होने वाली मतगणना के लिए निर्वाचन आयोग ने सीसीटीवी से निगरानी और कड़ी सुरक्षा व्यवस्था सहित व्यापक इंतजाम किए हैं। मुख्य चुनाव अधिकारी एच आर श्रीनिवास ने बताया कि स्ट्रांग रूम में ईवीएम कड़ी सुरक्षा में रखी हैं। 10 नवंबर को वोटों की गिनती के लिए राज्यभर में बनाए गए कुल 55 मतगणना केंद्रों पर त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गयी है। उन्होंने बताया कि ईवीएम तथा मतगणना केंद्रों की सुरक्षा के लिए राज्यभर में केंद्रीय सशस्त्र बलों (सीएएफपी) की कुल 19 कंपनी तथा मतगणना के दौरान विधि व्यवस्था बनाए रखने के लिए 59 कंपनी तैनात की गई हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.