वाशिंगटन: अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन एच-1बी सहित अन्य उच्च कौशल वीजा की सीमा बढ़ा सकते हैं। इसके अलावा वह विभिन्न देशों के लिए रोजगार आधारित वीजा के कोटा को समाप्त कर सकते हैं। माना जा रहा है कि इन दोनों ही कदमों से हजारों भारतीय पेशेवरों को फायदा होगा।
डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन की कुछ आव्रजन नीतियों से भारतीय पेशेवर बुरी तरह प्रभावित हुए थे। कमला हैरिस अमेरिका की नई उपराष्ट्रपति होंगी। माना जा रहा है कि बाइडेन एच-1 बी वीजाधारकों के जीवनसाथी के लिए कार्य वीजा परमिट को रद्द करने के ट्रंप प्रशासन के फैसले को भी पलट सकते हैं।
ट्रंप प्रशासन के इस फैसले से अमेरिकी में रहने वाले भारतीय परिवार प्रभावित हुए थे। बाइडेन प्रशासन की योजना एक वृहद आव्रजन सुधार पर काम करने की है। प्रशासन एकमुश्त या टुकड़ों में इन सुधारों को लागू करेगा।
बाइडेन अभियान द्वारा जारी दस्तावेज में कहा गया है, ‘‘उच्च कौशल के अस्थायी वीजा का इस्तेमाल पहले से अमेरिका में विभिन्न पदों पर काम करने के लिए मौजूद पेशेवरों की नियुक्ति को हतोत्साहित करने के लिए नहीं किया जाना चाहिए।’’

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.