आंगनबाड़ियों की रंगोली ने आयोजन में भरे रंग, नारी के सम्मान में बच्चे भी लड़ेंगे जंग
नारी सुरक्षा को मील का पत्थर बनेगा मिशन शक्ति: अभय कुमार
मिशन शक्ति के लिए आगे बढ़कर सहयोग करूंगा: अमित गुप्ता
 मिशन शक्ति अभियान का रोल मॉडल बनेगा कानपुर: अनामिका सिंह
 कार्यक्रम का आयोजन सेंटर फार एडवोकेसी एंड रिसर्च, हमारा ब्लैक बोर्ड फाउण्डेशन और बाल विकास परियोजना विभाग के सहयोग से किया गया

राजकुमार कटियार
कानपुर। कानपुर में मेसवानपुर का सरकारी स्कूल शनिवार को जोश जनून व जागरूकता के अनूठे मेल का गवाह बना। बच्चों के साथ ही आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों व शिक्षकों के प्रयास से जहां कोरोना को हराने के गुर बताये गये वहीं मिशन शक्ति के तहत बच्चों को आत्मरक्षा का पाठ भी पढ़ाया गया।
कोविड-19 और मास्क की उपयोगिता के प्रति आमजन को जागरूक करने के उद्देश्य से जिला प्रशासन द्वारा चलाए जा रहे जागरूक कानपुर अभियान के तहत शनिवार को पूर्व माध्यमिक विद्यालय मसवानपुर में रंगोली और मेंहदी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का आयोजन सेंटर फार एडवोकेसी एंड रिसर्च, हमारा ब्लैक बोर्ड और बाल विकास परियोजना विभाग के सहयोग से किया गया। इस मौके पर मिशन शक्ति कार्यक्रम का भी शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम के समापन से पूर्व मिशन शक्ति और सीफार संस्था के सहयोग से मिसवानपुर चौराहे से विद्यालय तक एक जागरूकता साइकिल रैली भी निकाली गई। एक दिन में ही कार्यक्रम को आयोजित कराने वाली बालविकास परियोजना अधिकारी अनामिका सिंह ने सभी अधिकारी व सहयोगियों की खूब तालियां बटोरी। इतना ही नहीं कुछ ही महीनों में रिटायर होने वाली ललित सक्सेना की सक्रियता व जोश देख कर सभी हैरत में पड गये। प्रतिभागियों को सर्टिफिकेट देने की जिम्मेदारी उन्होंने बखूबी निभाई।
किशोरियां और महिलाएं अब निर्भीक होकर अपना काम करें
मिशन शक्ति कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए जिला प्रोबेशन अधिकारी अभय कुमार ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा संचालित यह अभियान निकट भविष्य में नारी सुरक्षा, नारी सम्मान और नारी स्वावलंबन में मील का पत्थर साबित होगा। समारोह में मौजूद छात्राओं और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को आत्मरक्षा के उपायों की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि किशोरियां और महिलाएं अब निर्भीक होकर अपना काम करें। इस अभियान को महिलाओं, किशोरियों और बालिकाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखकर चलाया जा रहा है। उन्होंने कहाकि कि कानपुर नगर द्धितीय की सीडीपीओ अनामिका सिंह बहुत सक्रिय अधिकारी हैं। हमें उन पर पूरा भरोसा है कि वह मिशन शक्ति अभियान को बेहतर ढंग से आगे ले जायेंगी।  उन्होंने कहा कि किसी भी तरह की परेशानी होने पर वह निडर होकर हेल्प लाइन नंबर 118, 112 अथवा 1098 पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकती है। उन्होंने यह भी बताया कि शिकायतकर्ता का नाम, पता आदि पूरी तरह से गुप्त रहेगा।
सरकार की सर्वोत्तम प्राथमिकता मे है मिशन शक्ति
एसडीएम अमित गुप्ता जिनके पास कानपुर के परियोजना अधिकारी का अतिरिक्त कार्यभार भी है ने बताया कि स्कूलों में इस तरह के आयोजन होते रहने चाहिए। मिशन शक्ति में सभी को मिलकर काम करना है। हमारी सीडीपीओ अनामिका सिंह और उनकी टीम ने जिस तरह से कोरोना काल में लोगो को कुपोषण के खिलाफ जागरुक किया उसी प्रकार मिशन शक्ति अभियान सफलता की नई कहानी लिखेगा। मिशन शक्ति के लिए जो भी सहयोग होगा वो आगे बढकर किया जायेगा।
मिशन शक्ति में भी हमारा कानपुर सबसे आगे होगा
कानपुर नगर की बालविकास परियोजना अधिकारी अनामिका सिंह ने बताया कि हम कोरोना को हराने में लगे हैं लेकिन इसके साथ ही हमें बच्चियों से लेकर महिलाओं तक को आत्मरक्षा का पाठ पढाना होगा। मिशन शक्ति कोई पुरुषों के खिलाफ अभियान नहीं बल्कि उनकें सहयोग से चलने वाला ऐसा आंदोलन हैं कि सभी लोग स्वेच्छा से जुड़ रहे हैं। हमें महिलाओं ही नहीं बच्चियों के प्रति कुत्सित सोच रखने वालों का मुकाबला तो करना ही है। हमें खुशी इस बात की हैं कि इसमें सभी का बराबर सहयोग मिल रहा है। जिला प्रशासन हमारे डीपीओ सर हर स्तर पर हमारे प्रयासों न सिर्फ सराह रहे हैं बल्कि आगे बढकर मदद भी कर रहे हैं।
इस मौके पर आयोजित मेंहदी प्रतियोगिता में विद्यालय की 30 छात्राओं और रंगोली प्रतियोगिता में 25 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने अपनी कला का प्रदर्शन किया। आकर्षक और मनमोहक रंगोली मेंहदी ने हर किसी का ध्यान अपनी ओर खींचा। इस मौके पर आयोजित जूडो प्रतियोगिता में 25 बेटियों ने आत्मरक्षार्थ जूडो का भी प्रदर्शन किया। जिसे देखकर हर किसी ने दांतो तले उगंलिया दबा लीं।  जूडो एसोसिएशन के महासचिव आजाद सिंह द्धारा प्रशिक्षित इन बच्चों के लिए सीडीपीओ अनामिका सिंह ने कहा कि ये बच्चे मिशन शक्ति प्रतीक बनेंगे।
इस मौके पर विजय नगर की सीडीपीओ अनामिका सिंह, महिला कल्याण अधिकारी मोनिका यादव, सुपरवाइजर ललित सक्सेना, मिशन शक्ति की जिला समंवयक शशी देवी, शैल शुक्ला, विद्यालय की प्रधानाध्यापिका अर्चना द्विवेदी, हमारा ब्लैक बोर्ड संस्था के चेयरमैन कमलेश श्रीवास्तव, विद्यालय की शिक्षकाएं मिथलेश वर्मा, संगीता अग्रवाल, वंदना शुक्ला, अमृता सिंह, रागिनी अवस्थी और सोनी मिश्रा और बॉक्सिंग और जूडो एसोसिएशन के महासचिव आजाद सिंह आदि इस मौके पर प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

शालू और महफूज बनें जूडो चैंपियन —
बालिकाओं की जूडो प्रतियोगिात में शालू पाल को प्रथम, गौरी को द्वतीय और कशिश कुशवाहा को तृतीय स्थान हासिल हुआ। इसी तरह बालक वर्ग में महफूज अंसारी ने पहला स्थान, अर्जुन पटेल ने दूसरा और आर्यन तिवारी ने तीसरा स्थान हासिल किया। शशिकांत वर्मा और आदर्श यादव ने भी बेहतरीन प्रदशर्न किया। इस मौके पर बॉक्सिंग और जूडो एसोसिएशन के महासचिव आजाद सिंह सहित प्रशिक्षक बरखा, योगेंद्र यादव, सुधांशु और शशिकांत मौजूद रहे।
रंजना और निर्मला ने रंगोली में मारी बाजी —
आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की रंगोली प्रतियोगिता में रंजना सिंह द्वारा बनाई गई रंगोली सर्वाधिक सराही गई, जिसके एवज में उन्हें प्रथम पुरस्कार प्रदान किया गया। निर्मला देवी का द्वतीय पुरस्कार हासिल हुआ। रानी पाल और उमा सिंह को संयुक्त रूप से तृतीय पुरस्कार के लिए चुना गया।
अंजली और सबीना के मेंहदी ने मन मोहा —
पूर्व माध्यमिक विद्यालय की छात्राओं की मेंहदी प्रतियोगिता में अंजलि गुप्ता और सबीना को क्रमश: पहला और दूसरा पुरस्कार मिला, जबकि निष्ठा बाजपेई और अनामिका पाल को तीसरे पुरस्कार के लिए संयुक्त रूप से चुना गया।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.