लखनऊ: महापौर संयुक्ता भाटिया ने गुरुवार को आलमबाग स्थित मुंडावीर मंदिर नगर में सेवा भारती से संबंध सखी स्वयं सहायता समूह द्वारा गाय के गोबर से निर्मित भगवान गणेश और लक्ष्मी की मूर्ति और दीपक के अलावा स्वदेशी झालर और मिठाइयों की प्रदर्शनी का शुभारंभ किया.
दीपावली पर अपनाएं स्वदेशी
इस मौके पर महापौर संयुक्ता भाटिया में कहा कि भारतीय संस्कृति में गाय का अपना ही महत्व है. गाय के गोबर से बने इन नए उपयोगी उत्पादन से दूध न देने वाली गायों के संरक्षण में भी सहायता मिलेगी. साथ ही उन्होंने लोगों से दीपावली के मौके पर चीन से आयातित दीपों की जगह गाय के गोबर बने दीपक से अपने घरों को जगमग करने की अपील की.
इसके साथ ही महापौर ने संस्था द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि, इससे गौरक्षा और गाय के कल्याण तथा विकास को बढ़ावा मिलेगा. इस प्रयास से दूध न देने वाली बूढ़ी और दूसरी अन्य गायों के गोबर का भी सदुपयोग किया जा सकता है. महापौर ने आगे बताया कि नगर निगम द्वारा भी गौशाला की गायों के गोबर से इन सामान का निर्माण किया जा रहा है, इससे स्वदेशी को बढ़ावा मिलेगा.
इस मौके पर महापौर संयुक्ता भाटिया के साथ क्षेत्र सेवा प्रमुख नवल जी, प्रांत सेवा प्रमुख देवेंद्र अस्थाना, सह-प्रांत कार्यवाह प्रशांत, सिंधी अकादमी के उपाध्यक्ष नानक चंद लखमानी, सह विभाग कार्यवाह बृजेश, विभाग संघचालक सुभाष अग्रवाल, विभाग कार्यवाह श्याम, नगर कार्यवाह देवेंद्र, पार्षद रेखा भटनागर सहित अन्य लोग मौजूद रहे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.