लखनऊ: राजधानी में पहली बार माटी बोर्ड के द्वारा माटी मेला का आयोजन किया जा रहा है. यह मेला लखनऊ के डाली बाग स्थित खादी भवन के प्रांगण में किया जा रहा है. यहां पर प्रदेश के विभिन्न जनपदों से हस्तशिल्प कार मिट्टी के बर्तन लेकर इस प्रदर्शनी में शामिल हो रहे हैं. गुरुवार को इस मेले का उद्घाटन है. इसका उद्घाटन कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह करेंगे.
राजधानी लखनऊ में हस्तशिल्प को बढ़ावा देने के लिए और मिट्टी से बनाए जाने वाले प्रोडक्ट की डिमांड बढ़ाने के लिए माटी मेला आयोजित जा रहा है. मिट्टी से उत्पादित घर में उपयोग किए जाने वाले सभी बर्तन साथ में मां लक्ष्मी, सरस्वती, सहित सभी देवी देवताओं की मूर्तियां मिलेंगी और साथ ही दीपावली के त्योहार पर प्रयोग किए जाने वाले सभी मिट्टी के बर्तन भी इस माटी मेला प्रदर्शनी में खरीदे जा सकेंगे.
प्रदर्शनी में लगेगी 35 दुकाने
इस प्रदर्शनी में 35 दुकाने लगाई गई हैं, जो पूरे उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदों के द्वारा हस्तशिल्प कारों के द्वारा लगाई जाएंगी , और सजाई जा रही हैं. सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. कुछ तैयारियां की जा रही हैं. दुकानदार सामान लेकर प्रदर्शनी में शामिल हो रहे हैं, तो कुछ दुकानदार अपना सामान दुकानों में सजाने लगे हैं. इस मेला प्रांगण में करीब 1000 लोग एक साथ आ सकते हैं और इस प्रांगण में अपनी खरीदारी कर सकते हैं. साथ ही कोविड-19 की गाइड लाइन को भी फॉलो किया जाएगा.

कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह करेंगे उद्घाटन
कल दिनांक 5 अक्टूबर को कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह इस प्रदर्शनी का शाम 4:00 बजे का उद्घाटन करेंगे. साथ में निदेशक नवनीत सहगल भी मौजूद रहेंगे. प्रदर्शनी 13 अक्टूबर तक चलेगी जहां पर सभी तरह के मिट्टी के बर्तन खरीदे जा सकेंगे.
ललित प्रकाश सक्सेना ने बताया कि इस मेला प्रांगण में कोविड-19 काल की गाइडलाइन को फॉलो करते हुए गेट पर दो कोविड-19 हेल्प डेस्क लगाए हैं. सोशल डिस्टेंस का विशेष ध्यान रखा जाएगा. बिना मास्क एंट्री नहीं दी जाएगी. थर्मल स्कैनर, पल्स ऑक्सीमीटर और सैनिटाइजर की व्यवस्था पूरी रहेगी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.