बीजेपी के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी द्वारा अपने स्तुतिगान में कार्यकर्ताओं द्वारा लगाए जा रहे हर.हर मोदी के नारों का इस्तेमाल रोकने की गुजारिश के बाद अब वाराणसी में मां दुर्गा से जुड़े एक श्लोक का भी मोदीकरण कर दिया गया है। बीजेपी साहित्य एवं प्रकाशन प्रकोष्ठ की ओर से जारी एक पोस्टर में मां दुर्गा की पूजा करते वक्त पढ़े जाने वाले श्लोक को वाराणसी से चुनाव लड़ रहे मोदी के माफिक बनाने की कोशिश की गई है मोदी की तस्वीर वाले पोस्टर में नवरात्रि के आगमन की बधाई देते हुए लिखा हैण्ण्ण्श्या मोदी सर्वभूतेषु राष्ट्ररूपेण संस्थितरूए नमस्तस्यैए नमस्तस्यैए नमस्तस्यै नमो नम: विशेषज्ञों के मुताबिक मां दुर्गा के लिए पढ़े जाना वाला श्लोक श्या देवी सर्वभूतेषु मातृरूपेण संस्थितरू नमस्तस्यैए नमस्तस्यैए नमस्तस्यै नमो नमरूश् हैए जबकि मोदी के समर्थकों द्वारा गढ़े गए श्लोक का शाब्दिक अर्थ हैण्ण्ण्मोदी जो राष्ट्र के रूप में हर मनुष्य में निवास करते हैंए उन्हें बार.बार नमन गौरतलब है कि बीजेपी के प्रांतीय अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी की ओर से पिछले साल 20 दिसंबर को वाराणसी में आयोजित मोदी की रैली में दिया गया हर.हर नमो् का नारा बाद में श्हर.हर मोदीश् में तब्दील हो गया थाण् इस पर विवाद होने के बाद मोदी ने खुद एक ट्वीट करके नेताओं और कार्यकर्ताओं से इस नारे से परहेज की गुजारिश की थी
इस बीचए बीजेपी साहित्य एवं प्रकाशन प्रकोष्ठ के काशी क्षेत्र के संयोजक अशोक चौरसिया ने सफाई दी कि मां दुर्गा से जुड़े असल श्लोक से कोई छेड़छाड़ नहीं की गई हैण् दरअसल नरेंद्र मोदी के प्रति लोगों की भावनाओं को जाहिर करने के लिए यह नया श्लोक बनाया गया हैmodi
उन्होंने कहा कि हमारी तरफ से जारी किया गया पोस्टर हमारे अपने दृष्टिकोण को दर्शाता है न कि बीजेपी केण् हमारा मानना है कि प्रधानमंत्री के रूप में मोदी भारतीय अर्थव्यवस्था को मजबूत करेंगे और भारतीय सीमाओं की सुरक्षा करेंगेण्

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.