देवरिया: जिले में होने वाले उपचुनाव को लेकर एक तरफ सभी राजनीतिक पार्टियां अपने उम्मीदवार के प्रचार लिये कोई कसर नही छोड़ रही हैं. निर्दलीय प्रत्याशी राजन यादव उर्फ अर्थी बाबा भी देवरिया जिले मे हो रहे उपचुनाव को लेकर अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. लेकिन उनका प्रचार का तरीका बिल्कुल अलग है. अर्थी बाबा वोटरों को लुभाने के लिये उनके पैर धो रहे हैं, जूते भी पॉलिश कर रहे हैं.
चुनाव प्रचार का अनोखा तरीका
पूर्वांचल में लोगों के बीच अपनी जगह बना चुके राजन यादव उर्फ अर्थी बाबा देवरिया में होने वाले उपचुनाव में अपना भाग्य आजमा रहे हैं. वह अकेले जनता के बीच जाकर अपना प्रचार कर रहे हैं. सबसे अनोखी बात यह है कि अर्थी बाबा मतदाताओं को लुभाने के लिए ठेले पर नारियल और अमावट भी खिला रहे हैं.
किसानों के खेतों में पहुंचकर वह उनकी खेतों में फसलों को काटते नजर आ रहे हैं. बात यहीं नहीं रुकती अर्थी बाबा मतदाताओं को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए उनके पैर तक धो रहे हैं, और उनके जूते भी पालिस कर रहे हैं. राजन यादव मतदाताओं को भगवान का दर्जा भी दे रहे हैं. वहीं अन्य सियासी दल के नेता जहां हैन्डविल का प्रयोग कर रहे हैं तो यह अनोखा प्रत्याशी अपने मुंह से बोल कर अपना चुनाव चिन्ह बता रहे हैं.
वहीं इस दौरान राजन यादव उर्फ अर्थी बाबा का कहना था कि मैं महिलाओं और बुजुर्गों के पैर धो रहा हूं. कारण यह है की वह हमारे वोटर हैं. इस समय वही हमारे सेलेक्शन करते हैं. वह हमारे देव तुल्य हैं. वह हमारे लिए भगवान हैं. आज हम उन्हीं के वोट से चुनाव जीत कर बंगला, गाड़ी सब कुछ पाएंगे. वह इस समय हमारे लिए भगवान हैं. इसलिए भगवान समझकर मैं उनका पैर धो रहा हूं. उनके पैरों की चप्पल साफ कर रहा हूं. उनके जूते पॉलिश कर रहा हूं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.