मुंगेर: बिहार के मुंगेर में जारी हिंसा और आगजनी के बीच चुनाव आयोग ने जिले के डीएम और एसपी को हटाया. दुर्गा पूजा में मूर्ति विसर्जन के दौरान पुलिस की गोलीबारी में 1 की मौत और कई घायल हो गए थे. इस घटना से आक्रोशित लोग वहां की एसपी लिपि सिंह को हटाने की मांग कर रहे थे, जो जेडीयू के सांसद आरसीपी सिंह की बेटी हैं. ऐसे में चुनाव आयोग के आदेश के बाद दोनों को हटा दिया गया है.
मिली जानकारी अनुसार अब इस पूरे मामले की जांच मगध कमिश्नर असगबा चुबा आओ करेंगे और सात दिनों के अंदर आयोग को जांच रिपोर्ट सौंपेंगे. वहीं, आज ही मुंगेर में नए डीएम और एसपी की पोस्टिंग की जाएगी. दरअसल, बिहार के मुंगेर में 27 अक्टूबर के रात मूर्ति विसर्जन के दौरान हुई घटना से नाराज लोगों ने गुरुवार को जिला प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया.
अनुराग के लिए न्याय की मांग को लेकर मुंगेर के सैकड़ों युवा सड़क पर उतरे और प्रदर्शन करते हुए एसपी कार्यालय पहुंचे. प्रदर्शन कर रहे युवा एसपी कार्यालय और एसडीओ आवास का घेराव कर जमकर पथराव कर रहे हैं. इस हिंसक प्रदर्शन में पुलिस की कई गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गई हैं.
बता दें कि बिहार के मुंगेर में 27 अक्टूबर की रात प्रतिमा विसर्जन के दौरान पुलिस और स्थानीय लोगों में झड़प हो गई थी. झड़प इतनी बढ़ गई कि इस दौरान कई राउंड गोलियां चली, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई और लगभग आधा दर्जन लोग घायल हो गए थी. वहीं, इस घटना में कोतवाली प्रभारी समेत तीन जवान भी घायल हो गए थे. इस घटना के बाद स्थानीय लोग लोग वहां की एसपी लिपि सिंह को हटाने की मांग कर रहे थे और इसी को लेकर आज बवाल किया गया है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.