फिल्ममेकर अनुराग कश्यप पर यौन शोषण का आरोप लगाने और बाद में उनके खिलाफ रेप का केस दर्ज कराने वाली एक्ट्रेस पायल घोष ने रामदास आठवले की पार्टी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आरपीआई) में शामिल हुईं. पायल घोष के साथ-साथ इस मामले में उनके कानूनी सलाहकार बने वकील नितिन सातपुते भी पार्टी की सदस्यता लेने की भी अटलकलें हैं..
प्राप्त जानकारी के मुताबिक, अटकलें लगाई जा रही हैं कि रामदास आठवले पायल घोष को पार्टी की महिला मोर्चा का उपाध्यक्ष बना सकते हैं. जबकि उनके वकील को आरपीआई की एडवोकेट विंग का प्रदेश उपाध्यक्ष बना सकते हैं. पायल घोष के आरपीआई में जाने से हर कोई हैरान है. लेकिन ऐसी अटकले काफी वक्त से लगाई जा रही थी. यौन शोषण मामले में रामदास ने पायल घोष का काफी साथ दिया है.
न्याय की मांग को लेकर महाराष्ट्र के राज्यपाल से मुलाकात
बता दें कि पायल घोष ने जब फिल्ममेकर अनुराग कश्यप पर आरोप लगाए थे, तब रामदास आठवले ने उनके न्याय के लिए मांग उठाई. पायल घोष के समर्थन में उन्होंने अनुराग कश्यप की फिल्मों का बहिष्कार करने की भी बात कही थी. इतना ही नहीं, पिछले महीने भी पायल घोष और रामदास आठवले ने यौन शोषण मामले में एक्ट्रेस को न्याय दिलान के लिए महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से राजभवन में मुलाकात की थी.
अनुराग कश्यप की गिरफ्तारी की मांग
राज्यपाल से मुलाकात के बाद आठवले ने पायल घोष के साथ संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की थी और कश्यप की गिरफ्तारी की मांग की थी. बता दें अभिनेत्री ने कश्यप पर सात साल पहले उनके साथ बलात्कार करने का आरोप लगाया है. इससे पहले इस मामले में मुंबई पुलिस ने पायल घोष की शिकायत पर अनुराग कश्यप के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी. पायल घोष के अपने वकील नितिन सातपुते के साथ पुलिस से शिकायत करने के बाद वर्सोवा पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज की गई थी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.