पीलीभीत में जेल अधीक्षक अनूप सिंह (37) को बीती रात दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई। मूल रूप से इटावा के निवासी अनूप मानव शास्त्री पिछले तीन साल से पीलीभीत में तैनात थे। पीलीभीत में कोरोना संक्रमण काल के दौरान उन्होंने कई वीडियो और शानदार काम करते हुए लोकप्रियता हासिल की थी।
चिड़ियों की दुआएं वीडियो बनाने के बाद लोकप्रिय हुए अनूप मानव शास्त्री सामाजिक कामों में भी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेते थे। रविवार को भूमि संरक्षण अधिकारी के बच्चे की जन्मदिन पार्टी में अनूप सुनगढ़ी थाने के सामने एक होटल में गए हुए थे। बताते हैं कि वहां डांस के दौरान रात में अनूप के सीने में दर्द उठा और वे बेहोश से हो गए। इसके बाद उन्हें निजी अस्पताल लाया गया वहां उन्हें एक उल्टी हो गई तो उन्हें बरेली रेफर कर दिया गया। रास्ते में ही वे बेसुध हो गए।
बाद में उन्हें डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। इटावा की फ्रेंडस कॉलोनी के रहने वाले अनूप मानव शास्त्री की पहल पर ही जेल में मास्क, श्रीजन्माष्टमी पर श्रीकृष्ण के परिधान और रक्षाबंधन पर बंदी व कैदियों द्वारा राखी बनाने की अनूठी पहल हुई थी। जिंदादिल अफसर के अवसान पर स्थानीय प्रशासनिक अफसरों ने भी दुख जताया है। बता दें कि अनपू से पूर्व डीपीआरओ की भी दिल का दौरा पड़न से मौत हो चुकी है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.