नई दिल्ली: पंजाब में कल विजयादशमी के मौके पर पीएम मोदी का पुतला जलाने पर सियासी घमासान शुरू हो गया है. पहले राहुल गांधी ने ट्वीट करके कहा कि किसानों से पीएम को बात करनी चाहिए. वहीं दूसरी तरफ बीजेपी अध्यक्ष बीजेपी नड्डा ने राहुल गांधी पर हमला करते हुए कहा कि उन्हें ऐसी उम्मीद थी.
बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने ट्वीट किया, ”राहुल गांधी के निर्देश पर पंजाब में पीएम मोदी का पुतला जलाने का शर्मनाक ड्रामा हुआ लेकिन उन्हें ऐसी ही उम्मीद थी. नेहरू-गांधी खानदान ने कभी भी प्रधानमंत्री पद का आदर नहीं किया. यूपीए के शासन में 2004-2014 के बीच भी पीएम पद को संस्थागत तरीके से कमजोर किया गया था.”

The Rahul Gandhi-directed drama of burning PM’s effigy in Punjab is shameful but not unexpected. After all, the Nehru-Gandhi dynasty has NEVER respected the office of the PM. This was seen in the institutional weakening of the PM’s authority during the UPA years of 2004-2014.

— Jagat Prakash Nadda (@JPNadda) October 26, 2020

राहुल गांधी ने क्या कहा था?
राहुल गांधी ने एक फोटो शेयर करते हुए लिखा था, ”यह पूरे पंजाब में कल हुआ. यह दुखद है कि पंजाब पीएम के प्रति इतना गुस्सा महसूस कर रहा है. यह बहुत खतरनाक मिसाल है और हमारे देश के लिए बुरा है. पीएम को इन लोगों से बात करनी चाहिए और इन्हें सुनना चाहिए और जल्दी से मदद देनी चाहिए.”

This happened all over Punjab yesterday. It’s sad that Punjab is feeling such anger towards PM.
This is a very dangerous precedent and is bad for our country.
PM should reach out, listen and give a healing touch quickly. pic.twitter.com/XvH6f7Vtht

— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) October 26, 2020

लंबे समय से पंजाब में चल रहा प्रदर्शन
बता दें कि पंजाब में लंबे समय से मोदी सरकार के नए किसान कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा है. पंजाब विधानसभा में कैप्टन अमरिंदर इन कानून के खिलाफ बिल भी पास कर चुके हैं. राहुल गांधी खुद पंजाब गए थे और इन कानूनों के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों में हिस्सा लिया था.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.