मुंबई। महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कदावर नेता रहे एकनाथ खडसे (Eknath Khadse) ने आज भाजपा को छोड़ दिया है और शुक्रवार को खडसे शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) में शामिल होने जा रहे हैं। महाराष्ट्र में NCP के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल ने इसकी पुष्टि की है। जयंत पाटिल ने कहा है कि उनको जानकारी मिली है कि आज एकनाथ खडसे ने  भाजपा से त्यागपत्र दिया है और शुक्रवार को वे NCP में शामिल होने जा रहे हैं और पार्टी उनका स्वागत करती है।
एकनाथ खडसे कई दिनों से भारतीय जनता पार्टी से नाराज चल रहे हैं और महाराष्ट्र में पार्टी के नेतृत्व पर कई बार निशाना साध चुके थे। 2019 के महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने खडसे की जगह उनकी बेटी को टिकट दिया था लेकिन चुनाव में उनकी बेटी भी हार गई थी।
एकनाथ खडसे की गिनती महाराष्ट्र भाजपा के कदावर नेताओं में होती रही है, खडसे जलगांव जिले के मुक्ताईनगर से 6 बार बीजेपी के विधायक रहे हैं। एकनाथ खडसे 1995 की शिवसेना-बीजेपी सरकार में वित्त मंत्री,जलसंपदा मंत्री रहे और इसके बाद 2009 से 2014  विधानसभा के विपक्ष के नेता रहे। 2014 के दौरान जब महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनती तो एकनाथ खडसे के पास उसमें राजस्व मंत्रालय के अलावा करीब दर्जन भर विभागों का कार्यभार था।
पुणे के जमीन विवाद में उनका नाम आने की वजह से उन्हें त्यागपत्र देना पड़ा था और तभी से महाराष्ट्र भाजपा के नेताओं से साथ उनकी दाल नहीं गल रही है। 2019 विधानसभा चुनाव के वक्त खडसे को टिकट नकारते हुए उनकी बेटी को टिकट दिया गया था जिसमे वो चुनाव हार गयी थी।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.