लखनऊ : कोरोना संक्रमण से भारत में कई दिग्गजों की मौत हो चुकी है. मृतकों की फेहरिस्त में अवध के नवाब खानदान से जुड़े आखिरी शख्स का नाम भी शामिल हो गया है. प्रिंस कौकब कदर साजाद अली मिर्जा वाजिद अली शाह और बेगम हजरत महल के परपोते थे.
उनकी मौत के बाद प्रिंस कौकब कदर साजाद अली मिर्जा के परिवार ने कहा कि 87 वर्षीय मिर्जा एक सप्ताह पहले जांच में कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. उनके परिवार में पत्नी, दो बेटों और चार बेटियां हैं. वह कोलकाता के मटिआबुर्ज में सिब्तैनाबाद इमामबाड़ा ट्रस्ट के वरिष्ठ ट्रस्टी भी थे, जहां उनके परदादा नवाब वाजिद अली शाह की कब्र है.
प्रिंस मिर्जा ने वाजिद अली शाह के साहित्यिक और सांस्कृतिक योगदान पर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से उर्दू में डॉक्टरेट किया था. उन्होंने उसी विश्वविद्यालय में अध्यापन का काम किया और 1993 में उर्दू के प्रोफेसर के रूप में सेवानिवृत्त हुए. प्रिंस मिर्जा बिलियर्डस एंड स्नूकर फेडरेशन ऑफ इंडिया, वेस्ट बंगाल बिलियडर्स एसोसिएशन और उत्तर प्रदेश बिलियर्डस एंड स्नूकर एसोसिएशन के संस्थापक सचिव थे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.