modiभाजपा के पीएम पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी की रैली में मानव बम के संभावित हमले के मद्देनजर इंटेलिजेंस ब्यूरो ने विशेष अलर्ट जारी किया है। इस अलर्ट में कहा गया है कि वर्ष 1991 में जिस तरह लिट्टे ने तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या की थी उसी तरह मोदी को निशाना बनाया जा सकता है। इस अलर्ट में अतांकियों के मूवमेंट पर कुछ जानकारी भी हैं। आकलन के आधार पर राहुल गांधीए अरविंद केजरीवाल मुलायम सिंह यादवए लाल कृष्ण आडवाणी और कुछ अन्य नेताओं को खतरे की वजह से भी अतिरिक्त सतर्कता और सुरक्षा बरतने की सलाह दी गई है। आईबी की इस विशिष्ट अलर्ट में कहा गया है कि मोदी को गोली नहीं मारी जाएगी बल्कि छद्म समर्थक मानव बम उन्हें निशाना बना सकता है। इस अलर्ट के मुताबिक वाराणसी और वडोदरा में मोदी पर हमला हो सकता है। गौर हो कि जब मोदी को पीएम पद का उम्मीदवार घोषित किया गया था तब भी उन पर हमले की आशंका को लेकर पहली बार रेड अलर्ट जारी किया गया था। एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक एजेंसियां सोशल नेटवर्किग साइटों से लिए गए संदेशों पर काम कर रही है। ये संदेश चुनावी घोषणाओं से मेल खाते हैं। सुरक्षा एजेंसियां लश्कर.ए.तैयबा, इंडियन मुजाहिदीन और सिमी के पूर्व कैडर्स के चलायमान सदस्यों को ट्रैक करने में जुटी है। इंडियन मुजाहिदीन के सह संस्थापक यासिन भटकल से हुई पूछताछ के दौरान एनआईए को मोदी पर हमले की साजिश की जानकारी मिली।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.