देश में कोरोने वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच सोमवार को केंद्र सरकार राज्यों के साथ एक बैठक करने जा रही है, जिसमें COVID-19 से बचाव के लिए ‘दिल्ली मॉडल’ को अपनाने के लिए कहा जा सकता है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी।

आपको बता दें कि बैठक की अध्यक्षता केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला करेंगे। दिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने नाम नहीं छपने की शर्त पर कहा कि इस उच्चस्तरीय बैठक में दिल्ली में कोरोना के खिलाफ उठाए गए कदमों को अपनाने के लिए अन्य राज्यों के लिए भी प्लानिंग की जाएगी। इसके साथ ही आने वाले दिनों में दिल्ली में कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए रणनीति पर भी चर्चा होगी।

बैठक के एजेंडा के मुताबिक, दिल्ली के मुख्य सचिव विजय देव केंद्र के वरीय अधिकारियों के समक्ष दिल्ली में कोरोना के बढ़ते संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए किए गए प्रयासों पर चर्चा करेंगे। इस बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण और नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल भी शामिल रहेंगे।

हिन्दुस्तान टाइम्म के साथ इंटरव्यू के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि ‘दिल्ली मॉडल’ परीक्षण, होम आइसोलेशन, पारदर्शी डेटा, अस्पतालों में बेड और प्लाज्मा थेरेपी पर आधारित था। लेकिन इन पांच चीजों को प्राप्त करने के लिए, हमने तीन सिद्धांतों का पालन किया। पहला टीम वर्क, दूसरा रचनात्मक आलोचना को स्वीकार करना और जो गलत है, उसे ठीक करना और तीसरा, चाहे कितनी भी बुरी स्थिति क्यों न हो, एक सरकार के रूप में हथियार नहीं डालना। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोने के बढ़ते संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए उठाए गए कदमों के लिए केंद्र और दिल्ली सरकार की तारीफ की थी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.