राज्य सरकार ने बाढ़ में फंसे लोगों को राहत देने के लिए पैकेज की घोषणा कर दी है। प्रति वयस्क 60 और अवयस्क 45 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से 30 दिनों तक मदद की जाएगी। राहत आयुक्त कार्यालय की ओर से इस संबंध में सभी जिलों को निर्देश भेज दिए गए हैं।

इसके साथ ही बाढ़ से प्रभावित प्रत्येक परिवार को औसतन पांच व्यक्ति के हिसाब से खाद्यान्न और अन्य राहत सामग्री पैकेट बनाकर दिए जाएंगे। इसमें 10 किलो आंटा, 10 किलो चावल, 10 किलो आलू, पांच किलो लाई, दो किलो भूना चना, दो किलो अरहर की दाल दिया जाएगा। इसके साथ 500 ग्राम नमक, 250 ग्राम हल्दी, 250 ग्राम मिर्च, 250 ग्राम धनिया, पांच लीटर केरोसिन तेल, एक पैकेट मोमबत्ती, एक पैकेट माचिस, 10 पैकेट बिस्कुट, एक लीटर रिफाइंड तेल, 100 टेबलेट क्लोरीन और दो नहाने का साबुन दिए जाएंगे।

इस पैकेट में कुल 17 प्रकार की राहत सामग्री एक सप्ताह के लिए दी जाएगी, जिससे ऐसे परिवारों को किसी तरह की कोई असुविधा न होने पाए। बाढ़ प्रभावित परिवारों को मदद के लिए 48 घंटे के अंदर अभियान चलाकर उन तक इसे पहुंचाया जाएगा। इसी तरह पशुओं के लिए भी राहत सामग्री की व्यवस्था की जाएगी। पशु कैंपों के लिए चारा में संतुलित आहार के अलावा पानी और दवाओं की 30 दिन की व्यवस्था की जाएगी। इसमें पांच किलो भूसा प्रतिदिन प्रति पशु के हिसाब से दिया जाएगा।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.