iit kanpur professor pramod subramanian suicide in the campus

कानपुर। कोरोना वायरस के इस काल में आत्महत्या की हर दिन कहीं न कहीं से खबरें आ रही है। इस काल में ऐसे लोग आत्महत्या कर रहे हैं, जिनके बारे में कभी नहीं सोचा जा रहा है। 14 जून को फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह, पीसीएस अधिकारी के साथ में ही कोरोना से संक्रमित पत्रकार ने भी आत्महत्या कर ली है। इसके अलावा ऐसी बहुत ही खबरें आ रही है जो कि बहुत दुखदाई है। आज फिर एक प्रोफेसर ने आत्महत्या कर ली है। कानपुर आईआईटी में तैनात प्रोफेसर ने फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली है।

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) कानपुर के कंप्यूटर एवं इंजीनियरिंग विभाग के सहायक प्रोफेसर प्रमोद सुब्रमण्यन ने आज फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। आईआईटी प्रशासन की सूचना पर पहुंची कानपुर के कल्याणपुर थाने की पुलिस ने शव को फंदे से नीचे उतारा। पुलिस के मुताबिक, प्रोफेसर प्रमोद ने अपने कमरे में पंखे के सहारे नायलॉन की रस्सी से फांसी लगाई थी। ऐसी सूचना आ रही है कि उनके पास से कोई भी सुसाइड नोट नहीं बरामद हुआ है। अब इस पुलिस मामले की जांच कर रही है। प्रोफेसर प्रमोद सुब्रमण्यन अपनी पत्नी के साथ में ही कैंपस में रहते थे।
बता दें, कोरोना वायरस की वजह से इस समय कैंपस बंद चल रहा है और वह इन दिनों वह अकेले रह रहे थे। इस समय उनकी पत्नी साथ में नहीं थी। अभी पुलिस इस घटना के कारणों का पता नहीं चला है। बताया जा रहा है कि आज दोपहर डेढ़ बजे तक उन्होंने अपने सहयोगियों से बात की थी। उसके बाद अचानक पता नहीं क्या हुआ कि उन्होंने ऐसा कदम उठ लिया है। कैंपस के अंदर इस तरह की हुई घटना पर आईआईटी निदेशक अभय करंदीकर ने निधन पर शोक जताया है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.