बिहार के सबसे बड़े राजनीतिक परिवार के सदसय और जदयू के पूर्व सांसद एनके सिंह 24426_584258228258976_1240581672_n हैं। जदयू ने इन्‍हें राज्‍यसभा के बदले लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए कहा था, लेकिन ये ठहरे खानदानी सो गिद्धौर की महारानी के खिलाफ चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया। अब जरा इनका पारिवारिक रुतबा भी देख लें। राजपूत विरादरी से आनेवाले एनके सिंह बिहार में राजनीति में व्याप्त परिवारवाद के साक्षात उदाहरण हैं। इनकी मां माधुरी सिंह पूर्व में पूर्णिया की सांसद हुआ करती थी। ये खुद जदयू से राज्‍यसभा सांसद रह चुके है। इनकी बहन श्यामा सिंह भी 1999 में औरंगाबाद लोकसभा क्षेत्रा से कांग्रेस के टिकट पर संसद पहुंची थी। इनके भार्इ हैं- उदय सिंह जो भाजपा के सांसद हैं। इनकी बहन श्यामा सिंह का दूसरा परिचय भी है। ये नागालैंड के पूर्व राज्यपाल और औरंगाबाद से कांग्रेस उम्‍मीदवार निखिल कुमार की पत्नी हैं तथा पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय सत्येंद्र नारायण सिंह की पतोहू भी। सतेंद्र नारायण सिंह कांग्रेस के कद्दावर नेता अनुग्रह नारायण सिंह के बेटे हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.