भाजपा प्रवक्ता ने कहा, भाजपा सरकारों में ही विकास दुबे जैसे बदमाशों पर कार्रवाई हुई चाहे वह राजनाथ सरकार हो या फिर वर्तमान योगी सरकार

एनएन24 ब्यूरो                                                                                                          लखनउ। कानपुर के चौबेपुर थाने क्षेत्र के बिखरू गांव के रहने वाले फरार गैंगस्टर विकास दुबे का एक वीडियो वायरल हो रहा है। फरार विकास दुबे का एक 2017 का वीडियो सामने आया है, जिसमें उन्होंने भाजपा के कुछ नेताओं पर अरोप लगाया है। इस वीडियो में विकास दुबे भाजपा के दो विधायक भगवती प्रसाद सागर और अभिजीत सिंह सांगा का नाम ले रहा है। एसटीएफ जांच का वीडियो सामने आने के बाद अब हडकम्प मच गया है। यह वीडियो उस समय जब जिला पंचायत चुनाव के दौरान विकास दुबे पर एक शख्स की हत्या का आरोप लगा था और उसके खिलाफ हत्या षड्यंत्र रचने का आरोप भी लगा था। इस मामले में उससे एसटीएफ ने पूछताछ भी की थी। भाजपा के नेताओं के ऊपर उसने आरोप लगाया था।
भाजपा विधायक के ऊपर लगे आरोपों पर भाजपा प्रवक्ता नवीन श्रीवास्तव ने कहा कि जिस तरह से विकास दुबे आरोप लगा रहा है, वह पूरी तरह से गलत है। भाजपा के नेताओं को सिर्फ बदनाम करने की साजिश है। भाजपा का उससे कभी भी नाता नहीं रहा है। उन्होंने कहा कि विकास दुबे वही व्यक्ति है, जिसने भाजपा नेता संतोष शुक्ला की थाने के अंदर गोली मारकर हत्या की थी। उन्होंने कहा कि भाजपा नेता की थाने के अंदर हुई हत्या के मामले को मीडिया भी बता रहा है, लेकिन अब वह पूरी तरह से भाजपा सरकार की सख्ती से फंस चुका है, इसलिए अब वह ऐसी बातें कर रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा नेताओं को बदनाम करने की साजिश कर रहा है ताकि वह बच सकें। बसपा और सपा के नेताओं के राजनीतिक संरक्षण में आगे बढ़ने वाला विकास दुबे सिर्फ भाजपा को बदनाम कर रहा है और कुछ नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि अब वह कह रहा है कि हमने संतोष शुक्ला की हत्या ही नहीं की। उसकी तरफ से इस तरह की जा रही बातें पूरी तरह से गलत है।

भाजपा सरकारों न ही विकास दुबे पर कसा शिकंजा                                                                      विकास दुबे के साथ विपक्ष या विपक्ष के साथ मिलकर जो लोग नाम जोड रहे हैं वे यह जान लें कि भाजपा सरकारों में ही माफिया व बदमाशों पर प्रभावी कार्रवाई होती है। राजनाथ सरकार में विकास दुबे जेल में रहा। यह अलग बात है कि सपा बसपा में सरकार में ये बाहर रह कर मौज करता रहा। चुनाव तक लड़ गया। जैसे ही प्रदेश में भाजपा व योगी जी की सरकार आई तब फिर इसे जेल की हवा खानी पड़ी। 2017 में इस पर कार्रवाई हुई जब ये जेल से बाहर आया तब फिर पुलिस ने इस पर दबाव बनाया और कार्रवाई की।

बीजेपी विधायक ने भी किया आरोप को खारिज
भाजपा नेताओं की तरफ से दबाव बनाने के आरोप के साथ का वीडियो सामने आने के बाद अब विधायक भगवती सागर भी सामने आए हैं। इस वीडियो के सामने आने के बाद बीजेपी विधायक भगवती सागर ने विकास दुबे के साथ में अपने रिश्तों की चर्चा को पूरी तरह से खारिज किया है। उन्होंने कहा कि विकास दुबे बड़ा अपराधी है। अब वह सिर्फ अपने बचाव के लिए सत्ता पक्ष के किसी भी नेता या जनप्रतिनिधि का नाम ले सकता है। बता दें इस वीडियो में लोकल नेता और ब्लाक प्रमुख का भी विकास दुबे नाम ले रहा है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.