english medium government schools are coming in large numbers to get their child admitted in jaipur

जयपुर। देश में सरकारी स्कूलों की स्थिति कैसी है, यह वर्तमान में किसी से छिपी हुई नहीं है। सरकारी स्कूलों के प्रति लोगों के मन में भले ही नकारात्मक भाव हो, लेकिन जयपुर के एक स्कूल में मारामारी हो रही है। यहां के सरकारी स्कूल में इस तरह के हालात है, अब यहां पर दाखिल के लिए जमकर मारामारी है। स्कूल में इस तरह की स्थिति हो गई है कि अब यहां पर लॉटरी सिस्टम को लागू करना पड़ा। इस सरकारी इंग्लिश मीडियम स्कूलों में एडमिशन के लिए आवेदनों का अंबार लगा है। बता दें राजस्थान में सरकारी स्कूलों में इस समय दाखिले के लिए होड़ मची हुई है। अब यहां पर हालात यह हो गए है कि नामी-गिरामी प्राइवेट स्कूल के बच्चे भी प्रवेश के लिए आ रहे हैं। इसकी वजह यह है कि राजस्थान में इस समय प्रत्येक जिले में सरकारी इंग्लिश मीडियम स्कूल खोलने की तैयारी है। जयपुर के मानसरोवर स्थित महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल में 100 सीटों पर प्रवेश के कुल 1600 आवेदन आए हैं यानी हर 16 में से केवल एक भाग्यशाली स्टूडेंट का ही स्कूल में दाखिला हो पाएगा।

एडमिशन के लिए निकाली गई लॉटरी
जयपुर के मानसरोवर स्थित महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल में पहली कक्षा में दाखिले के लिए शनिवार को लॉटरी निकाली गई। पहली क्लॉस में प्रवेश के लिए 30 सीटों के लिए कुल 150 आवेदन आए हैं। यहां पर पांच आवेदकों में से एक ही स्टूडेंट को स्कूल में दाखिला मिल पाएगा। सरकारी स्कूल की प्रधानाचार्य अनु चौधरी ने बताया कि स्कूल में दाखिले के लिए बहुत बड़ी संख्या में अभिभावक डॉक्यूमेंट्स के अभाव में आवेदन नहीं कर पाए। उन्होंने कहा कि इसके बाद भी बहुत आवेदक आए हैं। यहां पर प्रवेश कराने आए छात्रों के अभिभावकों का कहना है कि प्राइवेट स्कूलों की लूट-खसोट से हम लोग बहुत परेशान है। उन्होंने कहा कि हम लोगों को विश्वास था कि कुछ अच्छा होगा और इसलिए हम लोग सरकारी स्कूल में दाखिले के लिए आए हैं। अभिभावकों को विश्वास है कि सरकारी स्कूल बच्चों को प्राइवेट स्कूल से बेहतर पढ़ाई करवा पाने में सक्षम हैं।

government primary schools, jaipur news, Lockdown, Private School

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.