कोरोना संकट ने चीनी फिल्म उद्योग की कमर तोड़कर रख दी है। एक हालिया सर्वे से खुलासा हुआ है कि क्षेत्र में बड़े पैमाने पर छंटनी तो शुरू हो ही गई है, साथ ही 40 फीसदी सिनेमाघरों पर हमेशा के लिए ताला लटकने का खतरा भी बढ़ गया है। दुनिया में सर्वाधिक 69787 सिनेमा स्क्रीन चीन में हैं। 23 जनवरी को कोरोना का केंद्र बने वुहान प्रांत में लॉकडाउन की घोषणा के बाद से ही सभी सिनेमाघर बंद चल रहे हैं।

चायना फिल्म एसोसिएशन, द चायना फिल्म डिस्ट्रिब्यूशन और स्क्रीन एसोसिएशन के सर्वे में दावा किया गया है कि कोरोना संकट के चलते चीनी बॉक्स ऑफिस को इस साल अब तक 4.24 अरब डॉलर (लगभग 296.8 अरब रुपये) का नुकसान हो चुका है। 40 फीसदी सिनेमाघर अपना अस्तित्व बचाने के लिए जूझ रहे हैं। उनके बंद होने से बड़े पैमाने पर नौकरियां भी जाएंगी। 20 फीसदी कर्मचारियों को तो पहले ही काम से हटा दिया गया है।

चीन में कोविड-19 का 1 नया मामला
वहीं, चीनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने गुरुवार (4 जून) को कहा कि 3 जून को चीन की मुख्य भूमि में कोविड-19 का केवल 1 नया पुष्ट मामला दर्ज हुआ, जो विदेश से आया है। मौत के मामले और संदिग्ध मामले की रिपोर्ट नहीं मिली। 3 जून को 5 मरीजों को स्वास्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी मिली। 383 लोगों पर चिकित्सा निगरानी खत्म की गई। गंभीर मामलों की संख्या 2 जून के बराबर रही।

अब तक विदेशों से 60 पुष्ट मामले हैं और संदिग्ध मामलों की संख्या 3 है। कुल मिलाकर विदेशों से 1763 पुष्ट मामले आए, जिनमें 1703 ठीक हो चुके हैं और मौत का मामला नहीं आया। 3 जून तक चीन की मुख्य भूमि में 69 मामले हैं और संदिग्ध मामलों की संख्या 3 है। कुल मिलाकर पुष्ट मामलों की संख्या 83,022 रही, जिनमें 78,319 ठीक हो चुके हैं और 4634 की मौत हुई है। 4360 लोग अब चिकित्सा निगरानी में हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.