लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि अनलॉक-1 के तहत राज्य में बस और टैक्सी सेवा की शुरुआत होगी। उन्होंने कहा कि इस संबंध में राज्य सरकार जल्द ही नई गाइडलाइंस जारी करने वाली है। न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीच में सीएम योगी ने कहा कि अनलॉक-1 के दौरान सामूहिक जमावड़े पर प्रतिबंध रहेगा। लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा और मास्क पहनना भी अनिवार्य है।
कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में लागू लॉकडाउन के चौथे चरण का आज आखिरी दिन है। इससे पहले ही शनिवार को केंद्र सरकार ने लॉकडाउन 5.0 और अनलॉक-1 के लिए नई गाइडलाइंस जारी कर दी थी। इसी को ध्यान में रखते हुए राज्य अपनी-अपनी गाइडलाइंस जारी कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश सरकार भी इस संबंध में कुछ ही देर बाद अपनी गाइडलाइंस जारी करने वाली है।
8 जून से अनलॉक-1
बता दें कि केंद्र सरकार ने लॉकडाउन को अब केवल कंटेनमेंट जोन तक सीमित कर इसकी अवधि 30 जून तक बढ़ा दी है। एक से 30 जून तक के लॉकडाउन 5.0 में कंटेनमेंट जोन को छोड़कर अन्य क्षेत्रों में 8 जून से चरणबद्ध तरीके से कई रियायतें लागू होंगी। कंटेनमेंट जोन कहां होगा, इसका फैसला जिलाधिकारी करेंगे।  देश में लॉकडाउन खत्म करने का काम तीन चरणों में पूरा होगा। 8 जून से शुरू होने वाले पहले चरण को अनलॉक 1 नाम दिया गया है। अनलॉक 2 जुलाई से शुरू होगा, जबकि तीसरे चरण की तिथि अभी तय नहीं हुई है। देशभर में आठ जून से रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू लागू रहेगा। अभी तक ये शाम 7 से सुबह 7 बजे तक था।
राज्यों के बीच परिवहन पर पाबंदी खत्म
गृह मंत्रालय ने नई गाइडलाइंस जारी करते हुए कहा कि अंतरराज्यीय परिवहन पर रोक नहीं होगी। यानी जहां अनुमति हैं, वहां मेट्रो को छोड़कर एक राज्य से दूसरे राज्य में बस, टैक्सी और अन्य परिवहन का संचालन किया जा सकेगा। हालांकि राज्य चाहें तो इस परिवहन को नियंत्रित कर सकता है, लेकिन इसके लिए पहले से लोगों को ठोस कारण बताना होगा। इसे जनता के बीच ठीक ढंग से प्रचारित करना होगा।
कुछ पाबंदियां पहले की तरह
सरकार ने भले ही देश को अनलॉक करना शुरू कर दिया है, लेकिन कई पाबंदियां पहले की तरह जारी रहेंगी। शादियों में अधिकतम 50 लोग और अंतिम संस्कार में 20 लोग ही शामिल हो पाएंगे। घर से बाहर निकलने पर फेस मॉस्क और सोशल डिस्टेंसिंग अनिवार्य बना रहेगा। इसके अलावा सार्वजनिक स्थानों पर थूकना और धार्मिक, सांस्कृतिक व राजनीतिक रैली पर प्रतिबंध जारी रहेगा।
यूपी की  गाइडलाइन एक नजर में : 

01 जून सोमवार से सभी सरकारी ऑफिस पूरी क्षमता के साथ खुलेंगे।

बाजार रोटेशन बेसिस पर सुबह 9 से शाम 9 बजे तक खुलेंगे।

सुपर मार्केट, ब्यूटी पार्लर/सैलून भी खुल सकेंगे।

एक राज्य से दूसरे राज्य जाने के लिए पास की जरूरत नहीं। हालांकि नोएडा/गाजियाबाद में डीएम जरूरत देख फैसला लेंगे।

टैक्सी, कैब, रिक्शा निर्धारित सवारी क्षमता के अनुसार सवारी बिठा चलेंगे।

रोडवेज बसें चलेंगी।

हर सीट पर सवारी बैठ सकेंगी।

किसी को खड़ा होकर चलने की अनुमति नहीं होगी।

सारे प्रतिबंध अब कैंटेनमेंट जोन तक ही सीमित।

केंद्र सरकार की  गाइडलाइंस : 

आठ जून से जिन गतिविधियों को अनुमति दी जाएंगी उनमें लोगों के लिए धार्मिक स्थल, होटल, रेस्तरां एवं अन्य होटल सेवाएं शामिल होंगी।

आठ जून से शॉपिंग मॉल खोलने की अनुमति होगी। 

राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के साथ विचार-विमर्श कर स्कूल, कॉलेज, शैक्षणिक, प्रशिक्षण, कोचिंग संस्थान खोले जाएंगे।

शैक्षणिक संस्थानों को जुलाई से खोलने को लेकर राज्य, केंद्र शासित प्रदेश अभिभावकों, अन्य संबंधित पक्षों से विचार-विमर्श करेंगे।

रात में कर्फ्यू के समय की समीक्षा होगी, पूरे देश में अब रात नौ बजे से सुबह पांच बजे तक लोगों के घूमने-फिरने पर प्रतिबंध होगा

स्थिति का आकलन करने के बाद अंतररष्ट्रीय हवाई यात्रा, मेट्रो ट्रेन, सिनेमा हाल, जिम, राजनीतिक सभाओं इत्यादि पर निर्णय लिया जाएगा।  कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन 30 जून तक जारी रहेगा, इन क्षेत्रों का निर्धारण जिला प्रशासन करेगा

कंटेनमेंट जोन के बाहर बफर क्षेत्रों, जहां संक्रमण के मामले आने की ज्यादा संभावना है, की पहचान राज्य और केन्द्र शासित प्रदेश करेंगे ।

बफर जोन में जरूरत के आधार पर जिला प्रशासन पाबंदियां लगा सकता है परिस्थितियों के अनुरुप राज्य और केन्द्र शासित प्रदेश निषिद्ध क्षेत्रों के बाहर कुछ गतिविधियों पर रोक लगा सकते हैं या पाबंदियां लागू कर सकते हैं

 ये सलाह भी पहले की तरह
65 साल से ज्यादा के लोग, गर्भवती महिलाएं, पहले से बीमारियों से ग्रसित व्यक्ति, 10 साल से छोटे बच्चों को घर में रहने की सलाह लागू रहेगी। गाइडलाइन में यह बी कहा गया है कि जहां तक हो सके लोग घर से ही काम करें, वर्क फ्रॉम होम को बढ़ावा दें। कार्यस्थलों पर स्क्रीनिंग और साफ-सफाई की पूरी व्यवस्था हो, सेनेटाइजेशन किया जाए।
लखनऊ के मोहनलालगंज में टिड्डियों का धावा, किसानों में दहशत 
लखनऊ। राजधानी लखनऊ के मोहनलालगंज के टिकरनखेडा में रविवार की तीन सौ से अधिक टिड्डियों के दल ने धावा बोल दिया। टिड्डियों ने सबसे पहले ब्रजेश कुमार के मदार के पेड़ को चट गई। उसके बाद अन्य पेड़ों को चट करने लगी। किसानों में दहशत फैल गई। लोगो ने विधायक व कृषि विभाग को सूचना दी। कृषि विभाग के टीए दिलीप कुमार दोहरे मौके पर पहुंचे और क्लोर पायरी फास दवा का छिड़काव करवाया। उन्होंने पाकिस्तान से आई टिड्डियों के दल होने की बात से इनकार किया।
आपको बता दें कि टिड्डियों के हमले मुख्यतः शुष्क क्षेत्रों में होते हैं। यही वजह है अफ्रीका से होते हुए अफगानिस्तान, पाकिस्तान के जरिए भारत में प्रवेश कर रही हैं। वह गुजरात, राजस्थान, मध्यप्रदेश समेत शुष्क प्रदेशों में खेतों की खड़ी फसल को चट कर रही हैं। उन्होंने बताया कि आमतौर पर यह एक स्थान पर रहती हैं। कभी-कभी यह तेजी से हमला करती हैं। इस दौरान उनके शरीर की संरचना बदल जाती है। हरे-पीले रंग की टिड्डियों के शरीर का रंग बदल कर हल्का भूरा व गुलाबी हो जाता है। माइग्रेशन के दौरान पिछले पैरों की हड्डियों का आकार भी बदल जाता हैं। इतना ही नहीं, इनकी प्रजनन की क्षमता माइग्रेशन के दौरान 100 गुना तक बढ़ सकती है। ये जहां भी रुकती हैं, वहां अंडे जरूर देती हैं। इन अंडे को वे गड्ढों में दबा देती हैं। जहां से 15 से 20 दिन बाद अंडे फूटने लगते हैं।
लखनऊ-प्रयागराज हाईवे पर खड़े ट्रक में घुसी कार
रायबरेली।  लखनऊ-प्रयागराज हाईवे पर शनिवार देर रात एक कार सड़क के किनारे खड़े ट्रक में जा घुसी। घटना में कार चला रहे प्रयागराज में तैनात बिजली विभाग के एक एक्सईएन की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि वह कार से अपने घर लखनऊ आ रहे थे। कार अनियंत्रित होकर खड़े ट्रक में जा घुसी।
दरअसल, मामला बछरावां थाना क्षेत्र में लखनऊ-प्रयागराज हाईवे का है। यहां के पहुरावां गांव के पास शनिवार देर रात एक कार सड़क के किनारे खड़े ट्रक में जा घुसी। हादसे में कार चला रहे प्रयागराज में तैनात बिजली विभाग के एक्सईएन मुकेश कुमार जाखनवाल (40) पुत्र बिंदेश्वरी प्रसाद की मौत हो गई। वह जानकीपुरम विस्तार निकट भवानी बाजार जनपद लखनऊ के निवासी थे। वे प्रयागराज से अपने घर लखनऊ आ रहे थे। देर रात लगभग 12 बजे थाना क्षेत्र के पहुरावा गांव के पास उनकी कार अनियंत्रित होकर हाईवे किनारे खड़े एक ट्रक के पिछले हिस्से से टकरा गई। हादसे में वह गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद उन्हें कार से बाहर निकाला। सूचना पर पहुंची एंबुलेंस ने घायल एक्सईएन को इलाज के लिए सीएचसी पहुंचाया। जहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया।

केंद्र सरकार के बाद सोमवार को यूपी की योगी सरकार ने लॉकडाउन 5 के अनलॉक 1 के लिए गाइडलाइन जारी कर दी है। नई गाइड लाइन के हिसाब से यूपी में सुपर मार्केट, मॉल, ब्यूटी पार्लर और सैलून खुल जाएंगे। बाजार सुबह नौ से नौ बजे तक खुलेंगे। शासन ने स्पष्ट किया है कि केंद्र सरकार के निर्देश के मुताबिक जिला प्रशासन नियमों को लागू करने के लिए ज़िम्मेदार होगा। कंटेनमेंट जोन में सख़्ती से नियम लागू रहेंगे।

राज्य के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया एक राज्य से दूसरे राज्य जाने के लिए पास की जरूरत नहीं। हालांकि नोएडा/गाजियाबाद में डीएम जरूरत देख फैसला लेंगे।  टैक्सी, कैब, रिक्शा निर्धारित सवारी क्षमता के अनुसार सवारी बिठा चलेंगे। रोडवेज बसें चलेंगी। हर सीट पर सवारी बैठ सकेंगी। किसी को खड़ा होकर चलने की अनुमति नहीं होगी।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.