मलिहाबाद। कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में तीन दबगो ने एक गरीब किसान को पीट पीट कर अधमरा कर दिया। दबंगो द्वारा लाठी डंडो लात घूसो से पीटे गए किसान की न तो पुलिस ने ही फरियाद सुनी और न ही डाक्टरो ने उसका इलाज करने मे दिलचस्पी ली। यही नहीं खुल कर दबंगो के साथ खड़ी मलिहाबाद पुलिस की लचर कार्यवाही से परेशान पीड़ित के माता पिता जब आत्महत्या करने पहुॅचे तो क्षेत्राधिकारी के आदेश पर मलिहाबाद पुलिस ने दबंगो के खिलाफ मुकदमा तो दर्ज किया लेकिन पुलिस अभी तक किसी भी दबंग को गिरफ्तार करने नही पहुॅची है। दबंगों के खौफ और पुलिस की लचर कार्यवाही से आक्रोषित ग्रामीणों ने मलिहाबाद पुलिस पर गम्भीर आरोप लगाए है। स्थानीय लोगो का आरोप था कि दबंग एक बड़े नेता के करीबी है जिसकी वजह से पुलिस उन पर मेहरबान है। अब देखने वाली बात ये है कि पुलिस की संवेदनहीनता के कारण जान देने पर आमादा हुए पति पत्नी की फरियाद क्षेत्राधिकारी ने सुन तो ली लेकिन पुलिस अब बड़े नेता के करीबी कहे जाने वाले दबंगो को गिरफ्तार करती है या गरीबो पर दबाव बनवा कर सुलह का रास्ता बना कर दबंगो को बचाती है ।
सूत्रों से जानकारी के अनुसार मलिहाबाद के रामपुर बस्ती मे रहने वाले किसान महावीर का 22 वर्षीय पुत्र रवि प्रकाश बीते मंगलवार की दोपहर खेतो मे अपनी भैंस चराने के लिए गया था तभी रवि प्रकाश को यही के रहने वाले दंबग आदित्या प्रताप सिंह, कुलदीप सिंह और रिंशू सिंह ने लाठी डंडो और लात घूसो से पीट पीट कर लहुलुहान कर दिया । दबंगो की पिटाई से रवि बेहोश हो कर खेत मे ही काफी देर तक पड़ा रहा। कुछ देर बाद गांव के लोग घायल रवि को लेकर मलिहाबाद कोतवाली पहुॅचे और रवि के परिजनो ने दंबगो के खिलाफ तहरीर दी लेकिन दबंगो का नाम सुनते ही पुलिस ने अपने हाथ खड़े कर लिए। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करना तो दूर घायल को रात नौ बजे तक इलाज के लिए अस्पताल भी नही भेजा। रात्रि नौ बजे के बाद पुलिस घायल को सामुदयिक स्वास्थ्य केन्द्र लेकर पहुंची तो वहाँ भी डाक्टरो की उदासीनता का शिकार होकर उसे बिना इलाज के ही बैरंग वापस लौटना पड़ा। पुलिस ने बेबस मजबूर गरीब रवि बिना इलाज के ही उसको घर वापस भेज कर सुबह थाने आने की बात कही। बुद्धवार की सुबह फिर तीनो दबंग रवि के घर पहुॅचे और रवि व उसके परिवार को गालियां देने के साथ ही खूब धमकाया। पूरे परिवार को धमका कर दबंग वापस चले गए।दंबगो के जाने के बाद रवि के पिता महावीर और मात मुन्नी देवी बाग मे पहुॅच गए और पति पत्नी ने आम के पेड़ में फासी लगाने की तैयारी कर ली। महावीर और मुन्नी देवी ने फांसी का फंदा तैयार कर फांसी लगाने की कोशिश ही की थी तभी वहा से गुज़र रहे कुछ राहगीरों ने पति पत्नी को बचा लिया। मलिहाबाद पुलिस द्वारा दबंगो के पक्ष मे खड़े रह कर पीड़ित को ही परेशान करने से नाराज़ माता पिता द्वारा फांसी लगाने के प्रयास की सूचना पर क्षेत्राधिकारी मलिहाबाद नईमुल हसन मौके पर पहुॅचे और उन्होने पीड़ित को न्याय दिलाने का आश्वसन देकर किसी तरह से महावीर और मुन्नी देवी को घर वापस भेज दिया और घायल रवि को इलाज के लिए सीएचसी भेज दिया। क्षेत्राधिकारी के आदेश पर मलिहाबाद पुलिस ने तीनो दबंगो के खिलाफ एससीएसटी एक्ट सहित कई अन्य धाराओ मे मुकदमा तो दर्ज कर लिया है लेकिन पुलिस अभी तक किसी भी दबंग को गिरफ्तार नही कर सकी है। गाॅव के लोगो का आरोप है कि दबंग एक बड़े राजनेता के करीबी है।दंबगो के खिलाफ पहले भी करीब आधा दर्जन तहरीरे थाने पर पहुॅच चुकी है लेकिन पुलिस ने एक भी तहरीर पर भी दंबगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज नही किया। पुलिस की लचर कार्यवाही से क्षुब्द गाॅव के लोगो मे पुलिस के प्रति काफी आक्रोष व्याप्त है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.