रायबरेली। कोरोना संक्रमितों का जिले में कहर जारी है।मंगलवार आई रिपोर्ट में दो प्रवासी मजदूरों को कोरोना की पुष्टि हुई है।जिले में अब कुल संक्रमितों की संख्या 67 तक पहुंच गई है।हालांकि गनीमत है कि अब 49 लोग स्वस्थ होकर अपने घरों तक भी जा चुके है और सक्रिय मरीज़ 17 ही बचे है।आज मिले दोनो संक्रमित प्रवासी मजदूर है और हाल ही में देश के अन्य शहरों से लौटे है।भदोखर के बेला गुसुसी निवासी प्रवासी मजदर की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पूरे गांव को सील किया गया है,गुरुबक्सगंज के नेवाजीगंज में एक प्रवासी का सैम्पल जांच के लिए भेजा गया जिसमें उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव मिलने से हड़कंप मच गया।स्वास्थ्य विभाग  और प्रशासन की टीम ने पूरे गांव को सील करते हुए मरीज के अन्य सम्पर्को की तलाश शुरू कर दी है। माध्यमों से कुछ दिनग़ौरतलब है कि अब तक जिले में 2557 लोगों की जांच हो चुकी है जिसके बाद 65 मरीज कोरोना संक्रिमत मिले है।अभी 89 की जांच रिपोर्ट आना भी बाकी है।लगातार प्रवासियों के कोरोना संक्रिमत पाए जाने पर लोगों में हड़कम्प मच गया है।
 गैर इरादततन हत्या में नामजद आधा दर्जन लोग गिरफ्तार 
नाली निर्माण के विवाद में हुई मारपीट में घायल की जिला अस्पताल में हुई मौत के मामले में पुलिस ने नामित आठ लोगों में से आधा दर्जन लोगों को गिरफतार कर जेल भेजा है । घटना 23 मई की है। क्षेत्र के गांव सुमेरबाग में नाली के विवाद में मारपीट हो गई थी । जिसमे एक ही पक्ष से कुल आठ लोग घायल हो गए थे । घायलों में गंभीर रूप से घायल  तीन लोगों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया था । उसी दिन गंभीर रूप से घायल राम बहादुर 38 पुत्र रतीपालकी जिला अस्पताल में मौत हो गई थी । मौत के बाद हरकत में आई पुलिस ने इसमें दूसरे पक्ष के आठ लोगों के विरुद्ध गैर इरादत न हत्या का मामला दर्ज किया था । मंगलवार को पुलिस ने इस मामले में नामजद राम बली , उमेश कुमार , सोनू , मोनू , पवन कुमार ,और भोला विश्वकर्मा को गिरफ्तार कर लिया है । सभी को जेल भेजा गया है।
कोतवाली प्रभारी धर्मेन्द्र दुबे ने बताया कि शेष दो लोगो की तलाश की जा रही है ।जल्द ही गिरफ्तार किया जायेगा।
बंदर भोज व गंगा पूजन के साथ प्रकृति का आवाहन 
संक्रमण काल के ई दौरान जनसेवा के 62 वें दिन अभिलाष चंद कौशल जिला अध्यक्ष भाजपा ओबीसी मोर्चा एवं  प्रबुद्ध जनो ने प्रकृति का आवाहन करके इस महामारी से निपटने के लिए राष्ट्रवासियों को- सामर्थ प्रदान करने की कामना की है इस पुनीत आयोजन की अगुवाई वरिष्ठ पत्रकार व साहित्य प्रेमी गौरव अवस्थी ने किया है ।
मंगलवार को जेठ माह का तीसरा मंगलवार था । इसी दिन जेठ माह की गणेश चतुर्थी थी । वैदिक परंपराओं में यह दिन धार्मिक रूप से बड़ा महत्वपूर्ण था । इस मौके पर गौरव अवस्थी के नेतृत्व में प्रबुद्ध जनो का एक समूह क्षेत्र के राम चन्दर पुर स्थित हनुमान मंदिर पहुंचा । जहां पर हनुमान जी की पूजा अर्चना के साथ बंदरो को भोज कराया गया । इस भोज में सैकड़ों बंदर एकत्र हो गए , और वहां का दृश्य अद्भुद था । चना , मूंगफली , केला , तरबूज और रोटी का अभी बंदरों में प्रसाद ग्रहण किया । उसके बाद सभी लोग क्षेत्र के गोकना गंगा घाट पहुंचे । जहां पर पंडा जितेंद्र द्विवेदी ने पूरे विधि विधान के साथ जगत तारिणी मा गंगा का पूजन कराया , गंगा मा की आरती की गई । और सभी ने सामूहिक रूप मा भगवती और प्रकृति से महामारी से निपटने के लिए राष्ट्र वासियों को सामर्थ प्रदान करने की कामना की। इस मौके पर प्रमुख रूप से मानव सेवा संस्थान के संरक्षक शिव कुमार अग्रवाल ,भाजपा ओबीसी मोर्चा के जिलाध्यक्ष अभिलाष चन्द्र कौशल ,महेंद्र अग्रवाल , सचिव रत्नेश गुप्ता ,राम प्रकाश कैलाश जी ,राजेन्द्र अवस्थी , जगदीश चेनानी ,राधेश्याम सोनी ,हनु अग्रवाल ,सुमित पांडे ,प्रखर चौरसिया, अमर अग्रहरी ,टीनू गुप्ता, राजेश कौशल और मनीष कौशल समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे ।
सफाई कर्मी की ससुराल में तबियत बिगड़ने से मौत
कोतवाली क्षेत्र के पूरे इमिलिहा में ससुराल आये सफाईकर्मी की संदिग्ध परिस्थितियों में तबियत बिगड़ गई जिसे इलाज के लिए सीएचसी ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
जानकारी के मुताबिक रायबरेली सदर के राजकीय कालोनी निवासी अनिल कुमार 40 जो कि नगर पालिका में सफाईकर्मी के पद पर तैनात था और सोमवार दोपहर अपनी ससुराल क्षेत्र के पूरे इमिलिहा में दिलीप कुमार के यहां आया था साथ में उसकी पत्नी सुमन भी थी।बताया ये जा रहा है कि अचानक संदिग्ध परिस्थितियों में अनिल की तबियत बिगड़ गई ससुरालीजनों द्वारा उसे सीएचसी लाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया ।वहीं इस घटना से परिजनों व पत्नी सुमन का रोरोकर बुरा हाल है, और मृतक अनिल कुमार अपने चार बच्चों को छोड़ कर चला गया है।मामले की सूचना पुलिस को हुई तो पुलिस भी मामले की जांच कर रही है।
सीएचसी अधीक्षक डॉ आर बी यादव ने बताया कि अनिल कुमार को मृत अवस्था में यहां लाया गया था।
 कोरोना संक्रमित का इलाज करने वाले फार्मासिस्ट एवं सफाई कर्मी क्वॉरेंटाइन 
कोरोना पॉजिटिव मरीज के इलाज करने वाले फार्मासिस्ट एवं सफाई कर्मी को क्वॉरेंटाइन किया गया है तथा उन्हें उनकी रिपोर्ट आने के बाद ही उन से काम लिया जाएगा। जानकारी के अनुसार डलमऊ कोतवाली क्षेत्र के ग्राम पुरे गुलाब राय मजरे कुरौली दमा निवासी सुजीत कुमार उम्र 19 वर्ष पुत्र भगवानदीन 15 मई को ट्रेन से रायबरेली और बस के माध्यम से डलमऊ पहुंचे थे, घर पहुंचते ही सुजीत की हालत बिगड़ने लगी थी। जिस पर परिजनों ने सुजीत को सीएचसी डलमऊ लेकर आए थे। चिकित्सकों के द्वारा युवक की थर्मल स्क्रीन की जांच की गई थी, इसके बाद से चिकित्सकों ने कोरोना वायरस के लक्षण देखकर संदिग्ध अवस्था में युवक को जिला अस्पताल रेफर कर दिया था। जिला अस्पताल से युवक के खून के नमूने को लेकर जांच के लिए भेजा गया। जिसमें कोरोना मिलने पर गांव को सील कर दिया गया था और लोग इलाज करने वालों को भी क्वॉरेंटाइन करने की बात कह रहे थे, सीएचसी प्रभारी विनोद कुमार चौहान ने बताया फार्मासिस्ट देवी प्रसाद वर्मा व सुनील कुमार को क्वॉरेंटाइन किया गया है। खून के नमूने को लेकर रायबरेली भेजा गया है, जब तक रिपोर्ट नहीं आ जाती है तब तक यह लोग क्वॉरेंटाइन रहेंगे इनसे कार्य नहीं लिया जाएगा।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.