रौनाही थाना क्षेत्र के ग्राम खिरौनी मजरे सुचित्तागंज बाजार में मर चुके युवक की रिपोर्ट कोरोना पॉजीटिव आने से हड़कंप मच गया है. बाजार में मृतक की रिपोर्ट पॉजीटिव जानने के बाद लोंगो में दहशत फैल गई है। आरोप है कि बीते रविवार की शाम सुचित्तागंज बाजार निवासी दो सगे भाई जुबेर अहमद व सगीर अहमद पुत्रगण रफीक अहमदाबाद से घर वापस आए थे, इसके बाद देर रात जुबेर अहमद की तबीयत अचानक बिगड़ गई। इसकी सूचना परिजनों के साथ स्थानीय लोगों ने जिला प्रशासन को दी। इसके बाद कोई उचित जबाब और कार्रवाई न होने पर लोगों ने जिलाधिकारी से इस बात की शिकायत किया  था। डीएम के हस्तक्षेप के बाद एम्बूलेंस से बीमार युवक को जिला अस्पताल पहुंचाया गया था, जहां इलाज के दौरान सोमवार की सुबह उसकी मौत हो गई थी। घटना के बाद लोगों को कोरोना संक्रमित होने का भय सताने लगा था। क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि शव को अस्पताल में जांच के लिए रोका गया था। सैम्पलिंग लेने के बाद शव को अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौपा दिया गया था। इसके बाद गुरुवार को मृतक जुवेर अहमद की रिपोर्ट कोरोना पॉजीटिव आने से क्षेत्र में हड़कंप मच गया है। ग्रामीणों का आरोप है कि मृतक के अंतिम संस्कार में दर्जनों लोग शामिल हुए थे, बेनीपुर गांव के तमाम रिस्तेदार भी आए थे. यही जुबेर के मरने के बाद परिवार के लोंगो का बराबर घर से निकलना गुरुवार की शाम तक जारी रहा है। क्षेत्रवासियों में इस बात की दहशत है, कि जुबेर के शव को जिला अस्पताल से लाने और सुपुर्दगे खाक तक शामिल परिवारीजनों में किसी की रिपोर्ट पॉजीटिव आई तो सुचित्तागंज बाजार हाट स्पाट बन जाएगा। वहीं तहसील प्रशासन अब मृतक के घर से एक किलोमीटर एरिया को सील करने की तैयारी में जुटा है। पूंछे जाने पर तहसीलदार सोहावल बीके सिंह ने बताया कि मृतक जुबेर अहम की रिपोर्ट कोरोना पॉजीटिव आई है, उसके दूसरे भाई सगीर को होम कोरेंटाईन कर दिया गया है।

आनलाइन सम्पन्न हुई बीवोक की मौखिकी परीक्षा

डाॅ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय परिसर के जनसंचार एवं पत्रकारिता विभाग द्वारा संचालित बी0वोक तृतीय सेमेस्टर की मौखिकी परीक्षा शुक्रवार को आॅनलाइन सम्पन्न हुई। छात्र-छात्राओं की आॅनलाइन मौखिकी परीक्षा विभाग के समन्वयक डाॅ0 विजयेन्दु चतुर्वेदी की देख रेख में तथा बाह्य परीक्षक एवं आन्तरिक परीक्षक डाॅ0 राजेश सिंह कुशवाहा की उपस्थिति में हुई। मौखिकी परीक्षा के समय विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक उमानाथ एवं विभाग के शिक्षक डाॅ0 आरएन पाण्डेय एवं डाॅ0 अनिल विश्वा आॅनलाइन जुड़े रहे। डाॅ0 चतुर्वेदी ने बताया कि कोविड-19 के संक्रमण की वजह से देशव्यापी लाॅकडाउन में शिक्षण संस्थान बन्द होने के कारण छात्रों का भविष्य खराब न हो इसके लिए विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित की अध्यक्षता में पूर्व में परीक्षा समिति की बैठक हुई थी जिसमें यह निर्णय लिया गया था कि लाॅकडाउन के दृष्टिगत परिसर में संचालित पाठ्यक्रमों की मिड सेमेस्टर परीक्षाएं एवं मौखिकी परीक्षाएं आॅनलाइन करा ली जाये। जिसके दृष्टिगत जनसंचार एवं पत्रकारिता विभाग ने आॅनलाइन मिड सेमेस्टर परीक्षा सम्पन्न करा ली है। बी0वोक तृतीय सेमेस्टर की मौखिकी परीक्षा आज सम्पन्न कराई गयी है। परीक्षा को संपादित कराने में विभाग के शिक्षक का विशेष सहयोग रहा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.