एक ओर जहां खबर है कि क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने अगस्त में भारतीय टीम की मेजबानी करने की उम्मीद जताई है, वहीं बीसीसीआई ने कहा है कि भारतीय टीम के लिए अगस्त में दक्षिण अफ्रीका का दौरा करना काफी मुश्किल होगा। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा है कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए टीम का दक्षिण अफ्रीका जाना मुमकिन नहीं होगा, क्योंकि टीम में ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने बीते 50-60 दिन से ट्रेनिंग नहीं की है।

अधिकारी ने कहा, “देखिए यह मुमकिन नहीं है। फिटनेस ट्रेनिंग अलग बात है लेकिन बल्ले और गेंद से ट्रेनिंग करना बिल्कुल अलग। हमारे पास ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने बीते 50-60 दिनों में गेंद और बल्ले को छुआ भी नहीं है। आप कैसे अपेक्षा कर सकते हैं कि वो जाकर अंतरार्ष्ट्रीय क्रिकेट खेलेंगे? हां वो लोग हमारे ट्रेनर्स के साथ मिलकर फिटनेस को बनाए रखने की पूरी कोशिश कर रहे हैं लेकिन बल्लेबाजी और गेंदबाजी का अभ्यास चाहिए होगा।”

अधिकारी ने कहा, “हां, जैसा हमने पहले कहा, बीसीसीआई अपने सभी द्विपक्षीय करार पूरा करने की कोशिश करेगी, अभी नहीं तो बाद में जब दोनों देशों के लिए स्थिति सही हो। लेकिन अगस्त में दक्षिण अफ्रीका की सीरीज काफी मुश्किल है।”

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने कहा था कि अगस्त में तीन टी-20 मैचों की सीरीज के लिए भारत की मेजबानी करने की उम्मीद रखते हैं। सीएसए के निदेशक ग्रीम स्मिथ ने कहा है कि वह बीसीसीआई के संपर्क में हैं।

स्मिथ ने गुरुवार को एक कॉन्फ्रेंस में कहा, “हम उन लोगों से बात कर रहे हैं और कोशिश है कि तीन मैचों की टी-20 सीरीज का आयोजन कर सकें। सब कुछ अंदाजा है, कोई नहीं जनता की अगस्त के अंत में क्या होगा। लेकिन हमें लगता है कि हम ऐसा खेल खेलते हैं जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा सकता है और हम बिना दर्शकों के खाली स्टेडियम में भी खेल सकते हैं।”

सीएसए के अंतरिम कार्यकारी अधिकारी जैक्स फॉल ने गुरुवार को कहा है कि बीसीसीआई अपने वादे को निभाने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा, “भारत अपने करार का सम्मान करना चाहता है, हो सकता है कि थोड़े दिनों बाद। हमारी उनसे काफी लंबी चर्चा हुई है।”

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.