परेशान मजदूरों ने रविवार सुबह मथुरा-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग पर हंगामा कर दिया। मथुरा-आगरा की सीमा रैपुराजाट पर रोके जाने से गुस्साये लोगों ने हाईवे जाम करते हाईवे पर आग लगा दी। उधर कोसीकलां में भी मंडी में रोककर रखे हजारों मजदूर हाईवे पर आगये। इन दोनों घटनाओं से पुलिस प्रशासन के हाथ पांव फूल गए।
आगरा सीमा पर रैपुराजाट के निकट रोके गये मजदूरों ने रविवार सुबह हाईवे जाम कर आग लगा दी। जिससे पुलिस प्रशासन में अफरा-तफरी मच गई और मौके पर पूरे सर्किल का फोर्स पहुंच गया। करीब 2 घंटा बाद मजदूरों को समझाकर जाम को बमुश्किल खुलवाया जा सका और मजदूरों को ट्रकों में भरकर आगे के लिए रवाना करना पड़ा।
विगत दिवस औरैया में हुई मजदूरों की दुर्घटना को गंभीरता से लेते हुए सरकार के फरमान के बाद शनिवार सुबह से ही आगरा मथुरा सीमा रैपुरा जाट पर पुलिस द्वारा ट्रकों में भरकर व पैदल जा रहे सभी मजदूरों को रोककर रेपुराजाट के समीप हरदयाल कॉलेज में एकत्रित कर दिया था। जहां पर शनिवार को मजदूरों ने रोड जाम कर दिया तो मौके पर पहुंचे जिलाधिकारी व पुलिस कप्तान मथुरा ने उनको बसों से घर भिजवाने का आश्वासन दिया था। आश्वासन के बाद मजदूरों ने जाम खोल दिया था और कॉलेज में बैठ गए थे।
रविवार सुबह तक भी जब उन्हें उनके घर रवाना करने के लिए वाहनों की कोई व्यवस्था नजर नहीं आई तो भूखे प्यासे मजदूर भड़क उठे और हजारों की संख्या में मजदूर हाईवे पर आ गए। मजदूरों ने हाईवे को जाम कर दिया। उन्होंने सड़क पर दोनों साइड कूड़ा करकट डालकर आग लगा दी। इस सूचना पर पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया और मौके पर फरह के अलावा रिफाइनरी, हाईवे एवं अन्य थानों का पुलिस फोर्स पहुंच गया। करीब 2 घंटा बाद पुलिस प्रशासन द्वारा काफी समझाने के बाद जाम को खुलवाया जा सका। मजदूरों को मजबूरन पुलिस ट्रकों में भरकर आगे के लिए रवाना कर रही है।

कोसीकलां में हजारों मजदूर हाईवे पर
कोसीकलां में भी सुबह से ही हजारों मजदूर हाईवे पर आ गये। हरियाणआ सीमा से आरहे इन मजदूरों को शनिवार से ही मंडी समिति में रखा गया था। उन्हें आश्वासन दिया गया था कि उनके लिए बसों की व्यवस्था की जा रही है लेकिन रविवार सुबह तक बसों की व्यवस्था नहीं की जा सकी तो मजदूर आक्रोशित हो गए। वह मंडी से बाहर निकलने लगे। वहां मौजूद कुछ पुलिस कर्मियों ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो उन्होंने उनकी नहीं मानी और करीब आठ-दस हजार मजदूर हाईवे पर पहुंच गये। इन मजदूरों ने पैदल ही आगे बढ़ना शुरू कर दिया है। हाईव पर इतनी बड़ी संख्या में मजदूरों के आने के कारण दिल्ली से मथुरा की ओर आने वाला हाईवे का मार्ग मजदूरों से भर गया है और इस पर वाहन नहीं निकल पा रहे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.