कोरोना वायरस से लड़ाई में अक्षय कुमार अपने स्तर पर हर तरह से सहयोग कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर उन्होंने पीएम केयर्स फंड को 25 करोड़ रुपये का योगदान दिया था। अब उन्होंने मुंबई पुलिस के लिए 1000 रिस्ट बैंड बांटे हैं, जो कोविड 19 के लक्षणों को पहचानने में मदद करेंगे।

अक्षय कुमार ये रिस्ट बैंड बनाने वाली कंपनी के ब्रांड एम्बेस्डर भी हैं। यह बैंड घड़ी की तरह कलाई पर बांध लिया जाता है। इसमें लगे सेंसर्स शरीर का तापमान, धड़कन, ब्लड प्रेशर के साथ कदमों की संख्या और कैलोरीज़ पर नज़र रखते हैं। कोरोना वायरस से संक्रमण की पहचान के लिए सबसे ज़रूरी कदम तापमान ही है।

इससे पहले मुंबई पुलिस को कोरोना वायरस से लड़ाई में मदद करने के लिए अक्षय ने पुलिस फाउंडेशन को 2 करोड़ रुपये का दान भी दिया था। इसके लिए मुंबई पुलिस कमिश्नर ने उनका शुक्रिया अदा किया तो अक्षय ने इसके जवाब में मुंबई पुलिस के हेड कांस्टेबल चंद्रकांत पेंडुरकर और संदीप सुर्वे को सलाम किया, जिनकी जान कोरोना वायरस एपिडेमिक में अपनी ड्यूटी करते हुए चली गयी।

इसके अलावा अक्षय ने बीएमसी को पीपीई, मास्क और रैपिड टेस्टिंग किट ख़रीदने के लिए भी 3 करोड़ रुपये दान दिये थे। सोशल मीडिया के ज़रिए अक्षय कोरोना वायरस से लड़ाई में लगातार लोगों को जागरूक कर रहे हैं। उन्होंने सोशल मीडिया में वीडियोज़ के ज़रिए सेल्फ़ आइसोलेशन के लिए लोगों को प्रेरित किया था। कोरोना वायरस से लड़ाई में जुटे डॉक्टर्स, मेडिकल स्टाफ, सफ़ाई कर्मचारी और दूसरे तमाम लोगों की हौसलाअफ़जाई के लिए अक्षय ने सोशल मीडिया में उन्हें थैंक यू बोलने की मुहिम भी शुरू की थी।

अक्षय कुमार की फ़िल्मों की बात करें तो मार्च में उनकी फ़िल्म सूर्यवंशी रिलीज़ होने वाली थी, जिसे रोहित शेट्टी ने निर्देशित किया है। मगर, 24 मार्च से लॉकडाउन और उससे पहले सिनेमाघर बंद होने की वजह से इसकी रिलीज़ अनिश्चितकाल के लिए टाल दी गयी है। मई में ईद के मौक़े पर अक्षय की दूसरी फ़िल्म लक्ष्मी बम रिलीज़ होने वाली थी। अब दिवाली पर पृथ्वीराज आने वाली है, जिसे डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी निर्देशित कर रहे हैं। इस फ़िल्म में मानुषी छिल्लर फीमेल लीड में हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.