मनदीप 

सुल्तानपुर में लॉकडाउन के दौरान गरीबों और निराश्रितों को बंटने आई राशन किट में भारी अनियमितता पाई गई है, इस राशन किट में भेजी जाने वाले आलू सड़े हुये थे,जबकि दाल और नमक भी घटिया किस्म के है1नगर बपालिका सभासदों ने जब मामला उठाया तो हड़कम्प मच गया। आनन फानन पहुंचे एसडीएम सदर ने मामले की जांच रिपोर्ट बनाकर ऊपर भेजने की बात कही है। डीएम नेे भी मामलेे को गंभीरता से लिया है। मामला नगर कोतवाली क्षेत्र के नगर पालिका परिषद का, जहां नगर क्षेत्र में रहने वाले गरीबों, निराश्रितों और जरूरतमंदों के लिये धीरे-धीरे कम्युनिटी किचन बन्द कर शासन स्तर राशन किट वितरण करने का निर्देश दिया गया था। नगर पालिका से पात्रों को चिन्हित कर राशन किट भेजा जाना था इसी दरमयान जब वहां कुछ सभासद और भाजपा नेता पहुंचे तो राशन किट में सड़ी आलू और अन्य सामानों में कमी देख हैरान रह गये और उन्होंने आलाधिकारियों को सूचना दी,। वही नेताओं की माने तो जो सामान की आपूर्ति की जा रही है उसकी क्वालिटी घटिया है भाजपा नेताओं ने साफ कहा कि राशन किट में खराब सामानों की आपूर्ति नही होने दी जाएगी। वहीं भाजपा सभासदों ने टेंडर लेने वाली कम्पनी के खिलाफ कठोर कार्यवाही की मांग की है।
सड़ी आलू और अन्य सामानों में क्वालिटी खराब होने की सूचना मिलते ही प्रशासनिक अधिकारियों में हड़कम्प मच गया। हलांकि एसडीएम सदर की माने तो ये राशन किट करीब हफ्ते भर पूर्व आया हुआ था, पॉलीथिन में रखने की वजह से आलू खराब हुई है।आलू और नमक भी मानक के अनुरूप नही दिखाई दिए। उन्होंने कहा की 635 रुपए में राशन किट का टेंडर हुआ है। फिलहाल इसकी जांच रिपोर्ट बनाकर आलाधिकारियों को भेजी जा रही है वहीं कम्युनिटी किचन बन्द करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि लंच पैकिट के बजाय अब गरीबों और जरूरतमंदों को सूखा राशन भेजा जा रहा है ताकि वे अपने घर पर अच्छा खाना बनाकर खा सकें।

हरकत में आई डीएम सुल्तानपुर 

सुलतानपुर 13 मई/ जिलाधिकारी सी0 इन्दुमती ने अवगत कराया है कि कतिपय इलेक्ट्राॅनिक एवं प्रिन्ट मीडिया में प्रकाशित खराब राशन किट वितरित करने की खबर को उन्होंने गम्भीरता से संज्ञान में लिया है तथा प्रकरण की जाॅच हेतु उप जिलाधिकारी सदर एवं क्षेत्राधिकारी सदर, सुलतानपुर की संयुक्त जाॅच टीम गठित करते हुए अविलम्ब जाॅच रिपोर्ट प्रस्तुत करने हेतु आदेशित किया है। जाॅच रिपोर्ट प्राप्त होते ही दोषी के प्रति आवश्यक कार्यवाही की जायेगी।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.