उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते कहर को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के सारे बॉर्डर को पूरी तरह सील करने के आदेश दिए हैं। सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश के बार्डर को पूरी तरह सील करें, सीमावर्ती क्षेत्रों में सतर्कता बरती जाए। नेपाल राष्ट्र सहित अन्य राज्यों से बगैर अनुमति कोई प्रदेश में आने न पाए।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा कि 10 लाख लोगों के लिए तत्काल क्वारंटीन सेन्टर व शेल्टर होम और कम्युनिटी किचन तैयार किए जाएं, जहां आने वाले प्रवासी मजदूरों को तात्कालिक रूप से रखा जा सके। क्वारंटीन सेन्टर व शेल्टर होम स्थापना के लिए बड़े कालेजों का उपयोग किया जाए।

अन्य राज्यों में फंसे लोगों को सुरक्षित वापस लाने के लिए अभियान तेज
केंद्र की सहमति मिलने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने अन्य राज्यों में फंसे लोगों को सुरक्षित वापस लाने के लिए अभियान तेज कर दिया है। उन्होंने कहा है कि अब इसके लिए प्रभावी कार्य योजना बनाई जाए। पहले चरण जल्द गुजरात, उत्तराखंड व राजस्थान से श्रमिकों को लाया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने संबंधित राज्य सरकारों से प्रवासी श्रमिकों के नाम, पते, टेलीफोन नम्बर तथा स्वास्थ्य परीक्षण की स्थिति सहित सम्पूर्ण विवरण उपलब्ध कराने का अनुरोध किया है।  ताकि उनकी सुरक्षित वापसी की कार्य योजना को आगे बढ़ाया जा सके।

दिल्ली से छात्रों को वापस लाया जाए
मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि नोएडा के साथ दिल्ली से भी उत्तर प्रदेश के छात्र-छात्राओं को वापस लाने के लिए वहां की सरकार से सम्पर्क किया जाए। उन्होंने कहा कि नोएडा, गाजियाबाद तथा अलीगढ़ से प्रदेश के विभिन्न जनपदों में वापस जाने वाले छात्रों की सूची तैयार करायी जाए।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.