आजमगढ़ के मेंहनगर थाना क्षेत्र के भौरमपुर गांव निवासी 24 वर्षीय रिंकू राम अपने चाचा के साथ शहर कोतवाली थाना क्षेत्र के रजदेपुर देहाती स्थित प्रेम गुप्‍ता के मकान में किराये पर रहता था। चाचा के साथ ही रिंकू एक हास्पिटल में काम करता था। हास्पिटल में ही काम करने वाली एक युवती से रिंकू को प्यार हो गया था। युवती और उसके परिजन शादी को तैयार नहीं थे। रिंकू के परिवार में भी शादी को लेकर झगड़े होने लगे थे।

बुधवार की सुबह चाचा हास्पिटल चले गए। इसी बीच घर पर रिंकू ने फांसी का फंदा तैयार कर लिया। चाचा को वीडियो कॉल करके अपने आत्महत्या की जानकारी दी। चाचा ने काफी समझाने की कोशिश की लेकिन नहीं माना। भतीजे को फांसी पर लटकता देख चाचा तेजी से घर की तरफ भागे। जब तक वह पहुंचते सबकुछ खत्म हो चुका था।

भतीजे की मौत हो चुकी थी। घटना की जानकारी मिलते ही रजदेपुर चौकी प्रभारी आशुतोष शुक्‍ला हमराहियों व ग्राम प्रधान जोगी यादव के साथ मौके पर पहुंचे। घटनास्थल की वीडियोग्राफी कराने के बाद श‌व को कब्जे में लेकर पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.