रोडवेज प्रबंधन ने लॉकडाउन अवधि का पार्किंग लाइसेंस शुल्क का माफ कर दिया है। इसका मतलब 22 मार्च से लॉक डाउन खुलने तक का साइकिल स्टैंड संचालक से लाइसेंस शुल्क प्रबंधन नहीं लेगा। इसकी वजह से लॉकडाउन में खड़े वाहनों से ठेकेदार पैसा नहीं ले सकेंगे।

रोडवेज के क्षेत्रीय प्रबंधक एसके शर्मा ने बताया कि लॉकडाउन की वजह से प्रबंधन ने मानवीय आधार पर जनहित में लाइसेंस शुल्क माफ कर दिया है। वैसे अभी भी कई दोपहिया वाहन झकरकटी बस अड्डे पर खड़े हैं। इसका सीधा लाभ झकरकटी में खडे वाहन मालिकों को मिलेगा।

रेलवे ने सिफारिश पत्र भेजा  कानपुर सेंट्रल के दोनों ओर दोपहिया और चौपहिया लगभग साढ़े तीन सौ वाहन खड़े हैं। इसी तरह अनवरगंज, पनकी, गोविंदपुरी स्टेशनों पर भी सौ से अधिक वाहन पार्क हैं। ठेकेदारों ने रेल प्रशासन से इस बात की मांग की है कि लॉकडाउन अवधि का पार्किंग शुल्क माफ किया जाए। स्थानीय अफसरों ने ठेकेदारों की मांग पर सिफारिश करते प्रपत्र मंडल अफसरों को भेज दिया है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.