बिहार के सासाराम में सड़क पर शराब पी रहे लोगों को डांट कर भगा रहे नगर परिषद के पदाधिकारी और पुलिस टीम पर असामाजिक तत्वों ने अचानक पथराव कर दिया। पथराव व हमले में कार्यपालक पदाधिकारी समेत एक पुलिसकर्मी घायल हो गए।  इस दौरान अधिकारी और पुलिस वालों ने किसी तरह भागकर अपनी जान बचाई। सूचना पाकर घटनास्थल पर पहुंचे एएसपी संजय कुमार व एसडीएम लाल ज्योति नाथ शाहदेव ने असामाजिक तत्वों को खदेड़ दिया। इस दौरान पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। हमले में घायल कार्यपालक पदाधिकारी सुशील कुमार व होमगार्ड जवान अनिल कुमार का इलाज अनुमंडल अस्पताल डेहरी में चल रहा है।

घटना के बारे में कार्यपालक पदाधिकारी ने बताया कि वे अपने कर्मियों के साथ डालमियानगर उच्च विद्यालय में बने क्वॉरेंटाइन सेंटर में रह रहे लोगों को खाना पहुंचाने गए थे। लौटने के क्रम में चूना भट्टा के समीप काफी संख्या में लोग इकट्ठा होकर हल्ला हंगामा कर रहे थे। जब उन्हें लॉक डाउन का पालन करने और घर जाने को कहा गया, इतने पर नशे में धुत लोगों ने लाठी-डंडे व इंट, पत्थर से गाड़ी पर हमला बोल दिया। गाड़ी से उतरने के बाद भागते हुए माथुरी पुल के समीप झोपड़ी में छिपकर वे और उनके एक सुरक्षा गार्ड अनिल कुमार ने जान बचाई।

सूचना मिलते ही जिला पुलिस की टीम और क्विक रिस्पांस की टीम को लेकर एएसपी, एसडीएम व नगर थानाध्यक्ष सुबोध कुमार घटनास्थल पर पहुंचे। भारी संख्या में पुलिस फोर्स के पहुंचते ही शरारती तत्व भागने लगे।  इसी में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार लोगों में चुन्ना भट्टा निवासी भरदुल कुमार और मुकेश कुमार शामिल है जबकि अन्य हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। इस घटना को लेकर अनुमंडल पुलिस हमलावरों को गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.