कस्बे में एक मजदूर ने लॉकडाउन से परेशान होकर आत्महत्या कर ली। मरने वाला व्यक्ति कस्बे में किराए पर रहकर भरण-पोषण करता था। लॉकडाउन के चलते उसके सामने कमाने का संकट खड़ा हो गया था, जिससे वह परेशान रहता था। बरेली के मोहल्ला हजियापुर निवासी मुजाहिद पुत्र शौकत अली नवाबगंज कस्बे के मोहल्ला हाकिमटोला में कई वर्षों से किराए पर रहता था। उसका 10 वर्ष पहले ही विवाह हुआ था। वह यहां मजदूरी करके अपना और अपने परिवार का भरण पोषण करता था।

देशभर में लॉकडाउन लागू होने से आवागमन के साथ ही काम-धंधा भी चौपट हो गया। सबसे ज्यादा परेशानी मजदूरों के सामने खड़ी हो गई। लॉकडाउन होने से परिवार को भोजन न मिलने पाने से मजदूर परेशान था। बताते हैं कि दो दिन पूर्व डायल 112 को फोन करके मदद भी मांगी थी। शुक्रवार सुबह उसने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। मजदूर के आत्महत्या की खबर से क्षेत्र में हड़कंप मच गया।

रिपोर्ट :मोरज राठौर

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.