यूपी में अब तक 435689 लोगों को होम क्वारंटाइन किया गया है। इसके साथ ही प्रदेशभर में 1,09,080 लोगों को आश्रय स्थलों में रखा गया है। यह जानकारी अपर मुख्य सचिव राजस्व रेणुका कुमार ने दी है। उन्होंने बताया कि कोविड-19 को ध्यान में राजस्व विभाग के अधीन बनाए गए फंड में लोगों के मदद करने का सिलसिला शुरू हो गया है।

उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में अब तक कुल 4,00,765 लोग होम क्वारंटाइन और शहरों में 34,933 लोग को होम क्वारंटाइन किए गए हैं। राजस्व विभाग द्वारा बनवाए गए 3791 आश्रय स्थलों में 1,05,289 लोग रह रहे हैं। आनलाइन ई-पास के लिए अब तक कुल 28,566 आवेदन प्राप्त हुए है, इसमें से 4498 ई-पास जारी किए जा चुके हैं, 12,523 आवेदन प्रक्रियाधीन हैं। कुल 11,545 आवेदन निरस्त किए गए हैं।

यूपी में 44 नए मरीज, आंकड़ा 283 पहुंचा
उत्तर प्रदेश में रविवार को कोरोना वायरस से संक्रमित एक और मरीज की मौत हो गई। वाराणसी के बीएचयू अस्पताल में 55 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई। यह प्रदेश में तीसरी मौत है। इससे पहले बस्ती और मेरठ में भी 1-1 मरीज की जान जा चुकी है। रविवार को कोरोना वायरस से संक्रमित 44 और नए मरीज मिले। इसमें अकेले तबलीगी जमात के 37 लोग शामिल हैं। अभी तक कुल 283 लोगों में कोरोना वायरस पाया जा चुका है और इसमें तब्लीगी जमात से वापस लौटे 138 लोग शामिल हैं।

सबसे ज्यादा 58 नोएडा में
अब तक कोरोना के जो 283 मरीज पाए गए हैं उनमें सर्वाधिक 58 नोएडा के हैं। आगरा के 47, मेरठ के 33, लखनऊ के 10, गाजियाबाद के 23, लखीमपुर खीरी के चार ,कानपुर के सात, पीलीभीत के दो, मुरादाबाद का एक, वाराणसी के सात, शामली के 14, सहारनपुर के 15, जौनपुर के तीन, बागपत के दो, बरेली के छह, बुलंदशहर के तीन, बस्ती के पांच, हापुड़ के तीन, गाजीपुर के पांच, आजमगढ़ के तीन, फिरोजाबाद के चार, हरदोई का एक, प्रतापगढ़ के तीन, शाहजहांपुर का एक, बांदा के दो, महाराजगंज के छह, हाथरस के चार, मिर्जापुर के दो, रायबरेली के दो और औरैया व बाराबंकी का 1-1 मरीज शामिल है। लखनऊ में तीन असम व दो जयपुर के मरीज भी हैं। इन्हें लखनऊ की मस्जिदों से पकड़ा गया था। वहीं, अभी प्रदेश भर में तब्लीगी जमात से लौटे 1499 लोक चिह्नित किए जा चुके हैं और इसमें से 1000 लोगों के नमूने जांच के लिए भेजे जा चुके हैं ।

रिपोर्ट :मोराज राठौर

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.