नई दिल्ली। पांच अप्रैल रात नौ बजे, यह दिवाली तो नहीं थी लेकिन इस पल का अनुभव दिवाली से कम भी नहीं था। वास्तव में यह 130 करोड़ भारतीयों के संकल्प, समर्पण, समर्थन और सहयोग की दिवाली थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर पूरे देश ने एक साथ मिलकर नौ मिनट की यह दिवाली मनाई।

कोरोना के विरुद्ध युद्ध में सभी भारतीयों से प्रधानमंत्री मोदी ने नौ मिनट तक दीया, मोमबत्ती और टॉर्च की रोशनी के साथ अपनी एकजुटता दिखाने को कहा था। पीएम की अपील का ही असर था कि ठीक नौ बजते ही लोगों ने अपने-अपने घरों की लाइटें बंद कीं और छतों, दरवाजों और बालकनी पर दीया जलाकर खड़े हो गए। हर ओर दीपों की लडि़यां सजी हुई दिख रही थीं। भले ही अभी कोरोना से लड़ाई लंबी चलने वाली है, लेकिन इन नौ मिनट ने दिखा दिया कि 130 करोड़ भारतीय हर लड़ाई लड़ने के लिए तैयार हैं और अपने नेतृत्व के साथ हैं। यह दिवाली इस महामारी के बीच लोगों की सेवा में लगे स्वास्थ्यकर्मियों, पुलिस के जवानों और अन्य आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों का हौसला बढ़ाने वाली भी रही।

इसने दिखा दिया कि इस लड़ाई में वो अकेले नहीं हैं, पूरा देश उनके साथ खड़ा है। इन दीयों की लड़ी ने दिखा दिया कि अपने-अपने घरों में रहकर लॉकडाउन का पूरी दृढ़ता से पालन कर रहे लोगों का युद्ध भी किसी मामले में कम नहीं है। कोरोना के विरुद्ध इस युद्ध में हर भारतीय का योगदान उल्लेखनीय है।

.. और नहीं गई लाइट
ये नौ मिनट बीतने के साथ ऐसी तमाम आशंकाएं भी हवा हो गई, जिनमें कहा जा रहा था कि एक साथ लाइटें बंद होने और फिर नौ मिनट बाद चालू होने से पड़ने वाले दबाव से ग्रिड फेल हो जाएंगे। सरकार की चाकचौबंद व्यवस्था और लोगों की ओर से केवल लाइटें बंद करने व अन्य इलेक्टि्रक वस्तुओं को यथावत रखने की सतर्कता से ऐसा कुछ नहीं हुआ।

जनता क‌र्फ्यू में भी दिखा था ऐसा ही उत्साह
प्रधानमंत्री मोदी की अपील पर 22 मार्च को जनता क‌र्फ्यू के दिन भी लोगों में यही उत्साह दिखा था। उस दिन मोदी ने शाम पांच बजे पांच मिनट के लिए लोगों से थाली, ताली या घंटी बजाकर कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जुटे योद्धाओं के प्रति सम्मान दिखाने की अपील की थी। इस अपील पर ठीक पांच बजे पूरे देश ने एकजुट होकर घंटी, ताली, थाली और शंख की ध्वनि से वातावरण को गुंजायमान कर दिया था।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने परिवार केे सदस्यों के साथ 9 बजे मोमबत्ती जलाकर सामूहिक एकजुटता और सकारात्मकता का प्रदर्शन करने में शामिल हुए। उन्होंने कोरोना वायरस के खिलाफ के खिलाफ लड़ाई में संकल्प दिखाने के लिए प्रत्येक भारतीय के प्रति आभार व्यक्त किया।

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू
उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने अपने निवास की सभी लाइटें बंद कर दीं और मिट्टी के दीपक जला दिए। पीएम ने राष्ट्र से अपील की थी कि रविवार रात 9 बजे 9 मिनट के लिए सभी घरों की लाइट बंद कर दी जाए, और कोरोना वायरस के खिलाफ भारत की लड़ाई को चिह्नित करने के लिए सिर्फ एक मोमबत्ती, ‘दीया’ या टॉर्च जलाएं।

पीएम नरेंद्र मोदी
पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने आवास पर रविवार रात 9 बजे 9 मिनट के लिए सभी बंद करने के बाद एक दीपक जलाया।

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा
भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने अपने आवास की सभी लाइटें बंद कर दीं और मिट्टी के दीपक जला दिए। पीएम ने राष्ट्र से अपील की थी कि रविवार रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घरों की सभी लाइटें बंद कर दें, और कोरोना वायरसके खिलाफ भारत की लड़ाई को चिह्नित करने के लिए सिर्फ एक मोमबत्ती, ‘दीया’, या टॉर्च जलाएं।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपने परिवार के साथ मिट्टी के दीपक जलाए। पीएम ने राष्ट्र से अपील की थी कि आज रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घरों की सभी लाइटें बंद कर दें, और कोरोना वायरस के खिलाफ भारत की लड़ाई को चिह्नित करने के लिए सिर्फ एक मोमबत्ती, ‘दीया’, या टॉर्च जलाएं।

गृह मंत्री अमित शाह
गृह मंत्री अमित शाह ने अपने आवास पर सभी लाइटों को बंद करने के बाद मिट्टी के दीपक जलाए। पीएम ने राष्ट्र से अपील की थी कि आज रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घरों की सभी लाइटें बंद कर दें, और कोरोना वायरस के खिलाफ भारत की लड़ाई को चिह्नित करने के लिए सिर्फ एक मोमबत्ती, ‘दीया’, या टॉर्च जलाएं।

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद
केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने अपने घर में मोमबत्तियां जलायीं। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र से अपील की थी कि आज रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घरों की सभी लाइटें बंद कर दें, और कोरोना के खिलाफ भारत की लड़ाई को चिह्नित करने के लिए सिर्फ एक मोमबत्ती, ‘दीया’ या टॉर्च जलाएं।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने परिवार के साथ दीपदान किया। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र से अपील की थी कि आज रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घरों की सभी लाइटें बंद कर दें, और कोरोना वायरस के खिलाफ भारत की लड़ाई को चिह्नित करने के लिए एक मोमबत्ती, ‘दीया’ या टॉर्च जलाएं।

पीएम मोदी की मां हीराबेन
पीएम मोदी की मां हीराबेन ने गुजरात में अपने आवास पर सभी लाइट बंद करने के बाद मिट्टी का दीया जलाया। भारत ने आज रात 9 बजे 9 मिनट के लिए सभी लाइटों को बंद कर दिया था और कोरोना के खिलाफ अपनी लड़ाई को चिह्नित करने के लिए सिर्फ एक मोमबत्ती, ‘दीया’, या टॉर्च जलाया।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.