वाराणसी के फूलपुर थाना क्षेत्र में शनिवार की शाम एक गांव में दो पक्षों के बीच हुए विवाद को सुलझाने पहुंची पुलिस टीम पर हमला कर दिया गया। अचानक हुए हमले में इंस्पेक्टर समेत कई लोग घायल हो गए। फूलपुर इंस्पेक्टर, एक कांस्टेबल और एक ग्रामीण की हालत गंभीर बताई जा रही है। पुलिसकर्मियों को अपनी बाइक छोड़कर भागनी पड़ी। हमलावरों ने पुलिस की टीयर गन और एक मोबाइल भी छीन लिया है। घटना की खबर मिलते ही बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स गांव पहुंची। फिलहाल हमलावर फरार बताए जा रहे हैं। पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लेकर छापेमारी शुरू की है।

बताया जाता है कि थानेरामपुर बस्ती गांव में शनिवार की सुबह युवकों के दो गुटों में किसी बात को लेकर मारपीट हो गई। एक पक्ष ने 100 नंबर पर फोन कर दिया। पुलिस पहुंची और कहा कि थाने पर जाकर तहरीर दीजिये। दोपहर में थाने पर मामले की लिखित शिकायत की गई। दोपहर बाद थाने से दरोगा लक्ष्मण प्रसाद और सिपाही जांच के लिए पहुंच गए। दूसरे पक्ष से पूछताछ कर ही रहे थे कि कुछ लोगों ने दरोगा और सिपाही पर हमला कर दिया। दोनों को अपनी बाइक छोड़कर भागना पड़ा।

काफी दूर आने पर फोन से थाने को सूचना दी। सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया। थानेदार इंस्पेक्टर सनवर अली तीन चार सिपाहियों के साथ मौके पर पहुंचे। इससे पहले कि थानेदार कुछ समझ पाते उन पर भी लाठी डंडे और ईंट पत्थर से हमला कर दिया गया। हमले में थानेदार के साथ ही सिपाहियों को भी चोट लगी। किसी प्रकार जीप निकालकर पुलिस टीम भाग खड़ी हुई। इसी दौरान हमलावरों ने कांस्टेबल आनंद को घेर लिया और बुरी तरह पीट दिया। उसके पास मौजूद टीयर गन और मोबाइल फोन भी हमलावरों ने छीन लिया। कांस्टेबल को बचाने पहुंचे एक ग्रामीण विपिन सिंह को भी बुरी तरह पीटा गया। दोनों की हालत गंभीर बताई जा रही है। खबर मिलते ही भारी पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची और हमलावरों की तलाश में छापेमारी शुरू की। कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.